Naidunia
    Wednesday, June 28, 2017
    PreviousNext

    बाजार को दिशा का इंतजार

    Published: Sat, 17 Jun 2017 09:01 PM (IST) | Updated: Mon, 19 Jun 2017 08:01 AM (IST)
    By: Editorial Team
    share market web 2017617 21721 17 06 2017

    जीमित मोदी

    सीईओ सैमको सिक्योरिटीज

    पिछले हफ्ते बाजार नकारात्मक सेंटीमेंट के साथ खुला था। बाजार में लगातार किसानों के कर्ज माफी से सरकारी बैंकों को होने वाले नुकसान का भय हावी रहा। आश्चर्य की बात ये है कि एक तरफ रिजर्व बैंक उनके पुराने फंसे कर्ज को निपटाने की तैयारी में लगा है तो दूसरी तरफ राज्य सरकारों की तरफ से कर्ज माफी का दबाव बढ़ रहा है। इससे उनकी बैलेंसशीट कमजोर हो सकती है। इसके बाद सरकारी बैंकों के निवेशकों के लिए दिक्कत बढ़ेगी। प्राइवेट बैंक और सरकारी बैंक के वैल्युएशन में अंतर और बढ़ेगा। नई पूंजी प्राइवेट बैंक में आएगी तो उनका रिटर्न बढ़ेगा। अप्रैल में एयरटेल ने 26 लाख ग्राहक जोड़े। ये रिलायंस जियो के 4 लाख ग्राहकों से बहुत ज्यादा है। आशा है टेलीकॉम सेक्टर अब स्थिर होगा और धैर्य वाले निवेशकों को लंबे समय में अवसर देगा।

    हफ्ते की घटना

    अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने अपनी 4 लाख करोड़ डॉलर की बैलेंसशीट को सामान्य करने के पहली बार संकेत दिए हैं। इससे बाजार में नकदी की कमी होगी। ये किसी दिन अमेरिकी शेयर बाजार में गिरावट का बड़ा कारण बन सकता है। बैलेंसशीट सामान्य करने का कदम बाजार में गिरावट का संकेत है।

    आउटलुक

    निफ्टी पिछले 8 दिन से करेक्शन फेज में चल रहा है। बाजार की पूरी तेजी 10 दिन में हवा हो गई। संकेत है कि बाजार में थोड़ी तेजी आ सकती है अगर ये तेजी नहीं आई तो बाजार में बड़ी गिरावट की आशंका है। हफ्ते के चार्ट पर एक स्टार बन रहा है। ये बाजार में तेजी खत्म होने का संकेत है।

    हफ्ते से उम्मीद

    ऑपरेशन बैड लोन शुरू हो चुका है। इसके जरिए कर्ज में डूबी 12 कंपनियों को दिवालिय कोर्ट भेजा जा रहा है। इसके लिए बैंकों को बड़ी प्रोविजनिंग करनी होगी। 1.5 लाख करोड़ की उधारी है। इसमें से कितनी रकम रिकवर होती है ये सरकार का लिटमस टेस्ट होगा। अगर ठीक रिकवरी हुई तो सरकारी बैंकों के शेयरों में तेजी आ सकती है। अभी इन शेयरों में कंसोलिडेशन हो रहा है जिससे निवेशक हताश हो रहे हैं। आने वाले हफ्तों में कोई बड़ी घटना नहीं दिख रही है। इसलिए बाजार बिना किसी दिशा के चलता रहेगा। निवेश को सचेत रहकर एसआईपी के जरिए निवेश करना चाहिए। निवेशक अच्छे शेयरों में निवेश कर लंबे समय का पोर्टफोलियो बना सकते हैं।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी