Naidunia
    Thursday, October 19, 2017
    PreviousNext

    एटीएम में तोड़फोड़,सेफ लॉक को निकाल ले गए चोर

    Published: Mon, 19 Jun 2017 08:57 PM (IST) | Updated: Mon, 19 Jun 2017 08:57 PM (IST)
    By: Editorial Team

    0 40 लाख रुपए से अधिक था एटीएम में, सुरक्षित मिले रुपए

    0 नवापारा मार्ग में एसबीआई के एटीएम को बनाया चोरों ने निशाना

    0 कैशवैन के कर्मी रुपए डालने पहुंचे,तो मिली एटीएम में तोड़फोड़ की जानकारी

    फोटो-11,12-क्षतिग्रस्त एटीएम व क्राइम ब्रांच पुलिस जांच करते हुए

    अंबिकापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    शनिवार-रविवार की दरम्यानी रात नवापारा मुख्य मार्ग में स्थित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम में तोड़फोड़ कर अज्ञात लोगों ने एटीएम को क्षतिग्रस्त कर दिया और सेफ लाक निकालकर ले गए। एटीएम में 40 लाख रुपए से अधिक रकम थी,लेकिन चोर कैश चेंबर तक नहीं पहुंचे। घटना का खुलासा कैशवैन कर्मियों के रविवार शाम एटीएम में रुपए डालने के लिए पहुंचने पर हुआ। इंफोसिस कंपनी के क्षेत्रीय अधिकारी ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। सोमवार को क्राइम ब्रांच और गांधीनगर पुलिस मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया। एटीएम कक्ष में दो एटीएम लगे हैं, जिसमें से एक ही एटीएम को चोरों ने क्षतिग्रस्त किया है। एटीएम में राशि सुरक्षित होने पर पुलिस ने राहत की सांस ली है।

    जानकारी के मुताबिक नवापारा मार्ग में उर्सूलाइन स्कूल के सामने स्थित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम में दो एटीएम मशीन लगे हैं। शनिवार को कैशवैन के साथ पहुंचे कर्मचारियों ने एक एटीएम में रुपए डाले थे। रविवार को दूसरे एटीएम में रुपए डालने के लिए वे शाम को पहुंचे। कैश के साथ जैसे ही कर्मचारी एटीएम कक्ष में प्रवेश किए उन्होंने एटीएम को क्षतिग्रस्त देखा और इसकी जानकारी तत्काल इंफोसिस कंपनी के क्षेत्रीय अधिकारी आशीष कुमार को दी। आशीष ने एटीएम को क्षतिग्रस्त करने की जानकारी प्रधान कार्यालय को दी। क्षेत्रीय अधिकारी रविवार की रात अंबिकापुर पहुंचे और उन्होंने पुलिस को घटना की सूचना देने के बाद क्षतिग्रस्त एटीएम की स्थिति का जायजा लिया। सेफ लॉक को क्षतिग्रस्त करने का सफल प्रयास देख एटीएम में डाले गए रुपयों के आहरण व ग्राहकों द्वारा की गई निकासी का मिलान कराया गया,जिसमें रुपए सुरक्षित मिले। चोरों की इस करतूत से एटीएम का संचालन करने वाली कंपनी को 3 से 4 लाख रुपए का नुकसान पहुंचा है।

    घटना की सूचना पर क्राइम ब्रांच व गांधीनगर पुलिस ने मौके का निरीक्षण किया है। एटीएम कक्ष में लगे सीसीटीव्ही कैमरों के सुरक्षित रहने से चोरों की करतूत कैद होने की उम्मीद बनी हुई है। पुलिस को सीसीटीव्ही कैमरे के फूटेज का इंतजार है। घटना में एक से अधिक लोगों के शामिल होने का अंदेशा है।

    एटीएम के सामान साथ ले गए चोर

    चोरों ने एटीएम के कैश को सेफ रखने वाले एसएनजी लॉक को निकाल लिया व अपने साथ ले गए। प्रिंटर को भी चोरों ने नहीं छोड़ा। कार्ड रीडर, ईपीपी, अपर व लोवर हुड को भी चोरों ने पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया है। तकनीकि दृष्टि से देखा जाए, तो एसएनजी लॉक किसी भी एटीएम में सेफ गार्ड का काम करता है। सेफ लॉक तक चोरों की पहुंच बनने से घटना में किसी शातिर चोर के शामिल होने का अंदेशा है। चोरों की एटीएम में तोड़फोड़ की सफल कोशिश से माना जा रहा है कि काफी देर तक एटीएम कक्ष में इनकी उपस्थिति रही होगी। चोरों ने शटर बंद करके इत्मीनान से घटना को अंजाम दिया है। चोरी की भनक दूसरे दिन तक पास-पड़ोस के लोगों को नहीं मिली थी। लगभग सात-आठ माह बाद हुई एटीएम में तोड़फोड़ की घटना के बाद एक बार फिर एटीएम की सुरक्षा सवालों के घेरे में है। यहां स्टेट बैंक के किसी भी एटीएम में गार्ड तैनात नहीं हैं।

    और जानें :  # atm todfod
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें