Naidunia
    Thursday, October 19, 2017
    PreviousNext

    आयोग के समक्ष मिलने वाली सुविधाओं पर सवाल

    Published: Thu, 12 Oct 2017 11:45 PM (IST) | Updated: Thu, 12 Oct 2017 11:45 PM (IST)
    By: Editorial Team
    12octp27 12 10 2017

    0 हर जिले में अल्पसंख्यक हॉस्टल व अन्य सुविधाएं मिलेंगी

    0 राज्य अल्पसंख्यक आयोग आयोजित एक दिवसीय सेमिनार में शामिल हुए आयोग अध्यक्ष

    0 प्रतिभावान छात्र-छात्राओं का आयोग के अध्यक्ष व सदस्यों ने किया सम्मान

    अंबिकापुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

    जिला पंचायत सभाकक्ष में गुरुवार को आयोजित राज्य अल्पसंख्यक आयोग की एक दिवसीय सेमिनार में पहुंचे आयोग के अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह केम्बो व सदस्यों से स्थानीय जनप्रतिनिधियों व अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े लोगों ने कई सवाल किए। अधिकांश सदस्यों ने अल्पसंख्यकों को मिलने वाली सुविधाओं को लेकर सवाल उठाया और अल्पसंख्यकों के हितों की सुरक्षा के लिए भी आवश्यक कदम उठाए जाने की बात कही। हर जिले में अल्पसंख्यक हॉस्टल बनाए जाने की भी बात सामने आई है। वहीं मुस्लिम समुदाय के 90 प्रतिशत से अधिक जाति प्रमाण पत्रों में जाति के स्थान पर मुसलमान अंकित होने का भी मामला आयोग के समक्ष आया है। आयोग ने इसके लिए ग्राम स्तर पर ग्रामसभाओं का आयोजन कर इसे सुधारने की प्रक्रिया शुरू किए जाने की जानकारी दी है। सेमिनार के दौरान अल्पसंख्यक वर्ग के प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को आयोग अध्यक्ष व सदस्यों ने प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

    राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह केम्बो ने सेमिनार को संबोधित करते हुए कहा कि अल्पसंख्यकों के हितों संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार कर उसका लाभ अल्पसंख्यकों को दिलाएं। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थी जिन शैक्षणिक संस्थाओं में अध्ययनरत हैं। उन संस्थाओं का पंजीयन अवश्यक कराएं ताकि आयोग द्वारा विद्यार्थियों को बेहतर शिक्षा दिलाने में सहायता की जा सके। सेमिनार में अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य तौकिर रजा ने कहा कि अल्पसंख्यकों के हित में राज्य और केन्द्र सरकार द्वारा अनेक कार्यक्रम और योजनाएं संचालित की जा रही है। आवश्यकता इस बात की है कि इन योजनओं की जानकारी जरूरत मंद लोगों तक पहुंचे ताकि वे शासन की मंशा के अनुरूप इन योजनाओं का लाभ उठाकर अपना जीवन स्तर में सुधार ला सकें। राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य प्रबोध मिंज ने राज्य अल्पसंख्यक आयोग की पहली बैठक सरगुजा जिले में आयोजित होने पर आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्यों का स्वागत करते हुए कहा कि सरगुजा जिले में बैठक आयोजित करने के बाद अब यहां अल्पसंख्यकों के हित में चलाई जा रही योजनाओं के क्रियान्वयन में गति आई। श्री मिंज ने आयोग के द्वारा अल्पसंख्यक वर्ग के हितों के लिए शुरु किए गए योजनाओं और कार्यक्रमों की विस्तृत जानकारी दी। अल्पसंख्यक आयोग के सचिव एमआर खान ने कहा कि आयोग द्वारा अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों को योजनाओं से लाभान्वित कराने के साथ ही साथ अल्पसंख्यक समुदाय के पीड़ित लोगों की समस्याओं का निराकरण कराने हेतु भी आवश्यक पहल की जा रही है। सेमिनार में आदिवासी विकास, महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग, आदिवासी विकास विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, पॉलेटेकनिक कॉलेज एवं कौशल विकास, अंत्याव्यसायी विकास निगम, गृह विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, नगर निगम, उच्च शिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, सर्व शिक्षा अभियान, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग, पशु चिकित्सा विभाग, मत्स्य विभाग, खेल एवं युवा कल्याण विभाग, समाज कल्याण विभाग, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र विभागों द्वारा अल्पसंख्यक मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई, बौद्ध, पारसी एवं जैन समुदाय की आर्थिक समाजिक एवं शैक्षणिक विकास के लिए जिले में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित सेमिनार में जानकारी दी गई। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक आरएस नायक, जिपं सीईओ अनुराग पाण्डेय, अंजुमन कमेटी के सचिव इरफान सिद्दीकी, सिक्ख समुदाय के महेन्द्र सिंह टुटेजा, पार्षद नुरुल अमीन सिद्दीकी, परमवीर सिंह बाबरा, हरमिन्दर सिंह टिन्नी, पपिन्दर सिंह, फिरोज खान, मिन्हाजुल खान, वसीम अंसारी, गुलाम नबी अंसारी, रसीद अंसारी, रोजालिया एक्का, छोटू थॉमस, जफर हैदर, परवेज आलम, कुलदीप सिंह कथूर सहित काफी संख्या में अधिकारी व जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे।

    इन प्रतिभावान छात्रों का हुआ सम्मान

    अल्पसंख्यक आयोग द्वारा आयोजित सेमिनार में जिले के अल्पसंख्यक वर्ग के प्रतिभावान छात्र उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तुरना की छात्रा कुमारी जीनत शाहिन, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रघुनाथपुर की छात्रा कुमारी राहत, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सुखरी की छात्रा कुमारी गुलनाज, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उदारी की छात्र मुजफ्फर अली, बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अंबिकापुर के छात्र सलीम रजा, फैज अहमद, कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सीतापुर की छात्रा कुमारी नुसरत जहां, बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अंबिकापुर के छात्र मोहम्मद अरमान गनी एवं संस्था के प्राचार्य उच्चतर माध्यमिक विद्यालय तुरना, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रघुनाथपुर, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सुखरी, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उदारी, बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अंबिकापुर, कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सीतापुर, बहुउद्देशीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अंबिकापुर संस्था के प्राचार्य को आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्यों द्वारा प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

    सेमिनार में हुआ रक्तदान

    सेमिनार के दौरान हज कमेटी के सदस्य वसीम अंसारी सहित लोगों ने रक्तदान किया। रक्तदान महादान के इस शिविर में जिले के वसीम अंसारी ने रक्तदान किसी जरूरतमंद व्यक्ति के लिए कितना उपयोगी है और वह जान बचा सकता है। इसके महत्व को जाना एवं समझा तथा स्वेच्छा से रक्तदान कर मानवता का मिशाल पेश किया है।

    गाय-भैंस बेचने वालों की सुरक्षा जरुरी

    अंजुमन कमेटी के सचिव इरफान सिद्दीकी ने आयोग के समक्ष कई महत्वपूर्ण बातें रखी। उन्होंने कहा कि पूरे देश में जिस तरह गाय को लेकर बातें चल रही है, ऐसे में सरगुजा संभाग में गाय-भैंस का व्यापार करने वाले अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की सुरक्षा जरुरी है। उनके साथ दुर्व्यवहार हो रहा है, उनकी सुरक्षा के लिए एक समिति बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हर जिले में अल्पसंख्यक हॉस्टल बनाया जाना आवश्यक है। मुसलमानों की जाति प्रमाण पत्रों में जाति के स्थान पर मुसलमान अंकित है इस कारण उन्हें लाभ भी नहीं मिल रहा है।

    ग्रामसभा में होगी जाति सत्यापन की पहल

    आयोग के सदस्य पूर्व मेयर प्रबोध मिंज ने बताया कि मुसलमानों के जाति प्रमाण पत्र की त्रुटि को सुधारने का प्रयास शुरु हो चुका है। 1950 से पूर्व का राजस्व रिकार्ड एसटी, एससी के लिए मांगा जाता है वहीं ओबीसी के लिए 1984 का रिकार्ड मांगा जाता है। इसको देखते हुए शासन ने नए प्रावधान लागू किया है। विशेष ग्रामसभाओं में 1950 से पूर्व की स्थिति की तस्दीक ग्रामसभा में होगी और मौके पर सूची बनेगी। इसी तरह ओबीसी के लिए 1984 के पूर्व की स्थिति की तस्दीक ग्राम स्तर पर होगी। शहरी क्षेत्र में नगर निगम व नगर पंचायतों के सामान्य सभाओं में इसे रखा जाएगा और दस्तावेज तैयार किए जाएंगे।

    और जानें :  # Questions on features
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें