Naidunia
    Friday, September 22, 2017
    PreviousNext

    एसीबी छापे में भ्रष्ट अफसरों के पास मिले लाखों के डॉलर, करोड़ों के जेवरात

    Published: Thu, 16 Feb 2017 11:05 AM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 08:53 AM (IST)
    By: Editorial Team
    acb action raipur cg 2017216 111853 16 02 2017

    रायपुर । छत्तीसगढ़ में नोटबंदी के बाद एंटी करप्शन ब्यूरो और आर्थिक अपराध ब्यूरो ने 9 अधिकारियों के 15 ठिकानों पर बड़ी कार्रवाई की है। अधिकारियों के पास से लाखों रुपए के डॉलर, करोड़ों रुपए के जेवर, पिस्टल मिले हैं। एडीजी मुकेश गुप्ता ने बताया कि नोटबंदी के बाद ज्यादा नकद मिलने की उम्मीद कम थी, उसके बावजूद जिला शिक्षा अधिकारी सुभाष गंजीर से 9 लाख और अविनाश गुंजाल के पास से 3 लाख कैश मिला।

    ईओडब्ल्यू ने दंतेवाड़ा में पदस्थ किसी अधिकारी पर पहली बार छापामार कार्रवाई की है। समाज कल्याण विभाग के अधिकारी भी छापे की जद में पहली बार आए हैं। एसडीओ रामेश्वर साहू के पास से रायपुर के सुंदरनगर आवास में ज्वेलरी के 40 खाली डिब्बे और बैकुंठपुर स्थित सरकारी आवास में 12 खाली डिब्बे मिले। बताया जा रहा है कि ज्वेलरी कहीं छिपा दी गई होगी। छापे के दौरान बताया गया कि आयकर विभाग में भी शिकायत हुई है।

    मुकेश गुप्ता ने बताया कि एसीबी की टीम सुबह पांच बजे अफसरों के घ्ारों पर पहुंच गई थी। तब अधिकांश अफसर सोए हुए थे। रायपुर, बस्तर, कोरिया, बिलासपुर, जांजगीर चांपा और दुर्ग में हुई कार्रवाई में 10 डीएसपी और 25 टीआई की टीम शामिल थी।

    छापे में सबसे बड़े आसामी समाज कल्याण विभाग के एडिशनल डायरेक्टर एमएल पांडेय निकले। उनके पास से 10 करोड़ की संपत्ति, विदेशी करेंसी, 19 बैंक खाते मिले। पांडेय के मोबाइल पर डेढ़-दो करोड़ रुपए के लेनदेन का रिकॉर्ड भी मिला है। साथ ही उनके पास से यूएस डॉलर, जापानी, सिंगापुर, मलेशिया डॉलर और चाइना की लगभग सात लाख की मुद्रा मिली है। कार्यपालन अभियंता, पीएचई कोरबा एसके चंद्रा के घर स्वीमिंग पूल मिला, वहीं 24 जमीन के दस्तावेज मिले हैं। डीईओ सुभाष गंजीर के पास 50 तोला सोना, कार्यपालन अभियंता प्रदीप के पास ढाई किलो चांदी मिली है।

    इनके पास मिली करोड़ों की संपत्ति

    एमएल पांडेय, एडिशनल डायरेक्टर, समाज कल्याण विभाग रायपुर

    2 लाख 94 हजार नकद, एसबीआई में 15 खाते, यूनियन बैंक और आईडीबीआई में 6 खाते, सेंट्रल बैंक में एक बैंक में एक करोड़ से ज्यादा स्र्पए जमा हैं। आभूष्ाणों का आकलन किया जा रहा है। रायपुर अग्रोहा कॉलोनी में करोड़ों स्र्पए की कीमत का 4800 वर्गफुट में बना आलीशान मकान, यहीं दो प्लाट, बेटे के नाम एक प्लाट, पत्नी के नाम एक हजार वर्गफीट में कोटा में दो मंजिला मकान मिला। इसमें एक स्कूल भी संचालित होता है। दुर्ग में पत्नी के नाम दो मंजिला मकान है, जिसमें डीपीएस स्कूल संचालित होता है। डभरा पाटन में 23 एकड़ जमीन के दस्तावेज मिले हैं। पुणे और मुंबई में करोड़ों के निवेश की जानकारी मिली है।

    सुभाष गंजीर, जिला शिक्षा अधिकारी दंतेवाड़ा

    8.71 लाख नकद, 50 तोला सोना और ज्वेलरी जब्त की गई है। तीन मकान वृंदावन कॉलोनी धनपुंजी और धरमपुरा में हैं। इनकी कीमत एक करोड़ से अधिक है। 40 जमीन के दस्तावेज मिले हैं, जिसका आकलन किया जा रहा है।

    अविनाश गुंजाल, सहायक संचालक, औद्योगिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा रायपुर

    रायपुर के वीआईपी स्टेट शंकर नगर में दो मकान और जमीन 1.50 करोड़ स्र्पए का। आनंदम वर्ल्ड सिटी में दो प्लाट मिले, जिनकी कीमत करोड़ों स्र्पए में है। कमल विहार में 50 हजार वर्गफीट जमीन, पचेड़ा और चटौद में पांच हेक्टेयर कृषि भूमि, धमना नागपुर में 10 हेक्टेयर कृषि भूमि और 5000 वर्गफीट जमीन की जानकारी मिली है।

    केएस चंद्रा, कार्यपालन अभियंता, पीएचई, कोरबा

    डेढ़ किलो चांदी और 315 बोर की लाइसेंसी पिस्टल मिली है। बिलासपुर में रामा लाइफ सिटी में 60 लाख कीमत का मकान, बेलकोटा में 6 एकड़ 40 डिसमिल जमीन और जांजगीर में 24 जमीन के दस्तावेज मिले हैं। ग्राम सुगदा जांजगीर में पत्नी के नाम 25 एकड़ जमीन मिली है। आधे एकड़ में बने फॉर्म हाउस में एक स्वीमिंग पूल भी मिला है।

    प्रदीप कुमार गुप्ता, कार्यपालन अभियंता, बिलासपुर

    एक लाख 19 हजार नकद, 15 लाख स्र्पए का सोना, 2.5 किलो चांदी और दो बैंक लॉकर मिले हैं। बिलासपुर के साईं परिसर मैग्नेटो मॉल के पास 60 लाख कीमत के दो फ्लैट, आशीर्वाद वैली अपार्टमेंट में 80 लाख का बंगला, आठ लाख की कार, डेढ़ लाख की बुलेट मिली है। मंगला में 20 लाख का प्लॉट, 25 लाख की दुकान, ग्लोरी अपार्टमेंट में 35 लाख का फ्लैट मिला है।

    रामेश्वर साहू, एसडीओ वन विभाग, कोरिया

    61 हजार नकद और एसबीआई में पांच खाते मिले हैं। इनके रायपुर के सुंदरनगर आवास, बैकुंठपुर के सरकारी आवास और भिलाई के सूर्या विहार में कार्रवाई की गई। दामाद और बेटी के नाम से करोड़ों की संपत्ति खरीदी गई है। एक करोड़ 20 लाख का सूर्या विहार और मॉडल टाउन में फ्लैट, 4 लाख की इंश्योरेंस पॉलिसी, बैंक में 14 लाख जमा है। पुणे में निवेश की जानकारी मिली है।

    एके तंबोली, सहायक खाद्य अधिकारी बिलासपुर

    नकद एक लाख 38 हजार स्र्पए, बैंक में दो लाकर, विजयापुरम में दो मकान मिले हैं। कवर्धा में 12 एकड़ जमीन और लाकर में मकान के दस्तावेज मिले हैं।

    सालिक राम वर्मा, जॉइंट डायरेक्टर, कृषि विभाग, रजिस्ट्रार कृषि विवि रायपुर

    नकद 2 लाख 70 हजार रुपए, आठ लाख का सोना, उरला में 3 फैक्टरी, 6500 वर्गफीट नया रायपुर में जमीन, बेमेतरा में बचपन स्कूल, एक बस, तीन कार और उरला में जमीन के दस्तावेज मिले हैं।

    श्रवण सिंह, नोडल अधिकारी, कोआपरेटिव बैंक जांजगीर

    पत्नी, बेटे और भतीजे के नाम पर बेहिसाब जमीन खरीदी के दस्तावेज मिले हैं। 46 हजार नकद, और 4-5 जमीन के दस्तावेज मिले हैं। तीन दस चक्का हाइवा, कई लग्जरी गाड़ियां और रायपुर में मकान मिला है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें