Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    कॉलेज में पक्षियों की प्यास बुझाने लटकाए सकोरे

    Published: Tue, 21 Mar 2017 12:07 AM (IST) | Updated: Tue, 21 Mar 2017 03:40 PM (IST)
    By: Editorial Team
    pani pani 2017321 154041 21 03 2017

    धमतरी। विश्व गौरैया दिवस के अवसर पर सोमवार को शहर के जागरूक युवाओं ने बीसीएस शासकीय पीजी कॉलेज में पंक्षियों के पानी पीने के लिए सकोरे (मिट्टी के पात्र) लटकाए।

    पंछी बचाव, पुण्य कमाव अभियान के तहत कॉलेज के अलावा राष्ट्रीय सेवक संघ के कार्यालय में भी पानी के सकोरे लटकाए गए। गुड्डा रजक, पुष्कर यादव ने बताया कि यह आज पंछी बचाव पुण्य कमाव का तीसरा सप्ताह है। पंछियों की आबादी दिनोंदिन कम होती जा रही है।

    जिसे देखते हुए हिन्दू संगठन द्वारा अभियान चलाया जा रहा है। सकोरे में पानी डालने की जिम्मेदरी कॉलेज के प्राचार्य डॉ. चंद्रशेखर चौबे एवं पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष पुष्कर यादव ने ली। यहां बंटी रामटेके, दिलीप जैन, रामकृष्ण ध्रुव, वि- ी सिंह ,सनप्रीत सिंग, राज सोनकर ,जसप्रीत सिंह , अगम सिंह, राज निर्मलकर ,मनीष साहू, उमेश यादव, देवेश अग्रवाल, नंदू जसवानी, देव रजक, प्रेम साहू ,पुष्पेंद्र साहू ,दिलीप जैन ,दानेश साहू, भागवत साहू, अमित श्रवन ,बाबा पटेल, रूपेश निर्मलकर ,सुमित, सत्येंद्र साहू समेत अन्य युवक उपस्थित थे।

    मराठापारा पार्षद भी चलाते हैं अभियान

    पीजी कॉलेज में कलशे लगाते समय मराठापारा वार्ड के पार्षद दुष्यंत घोरपड़े भी उपस्थित थे। उन्होंने कहा कि विश्व गौरैया दिवस में यह कार्यक्रम हर वर्ष किया जाता है। इससे पंछियों को रहत मिलती है। इसके अगले सप्ताह शांति घाट के आस पास के पेड़ों में कलश लटकाया जायगा। मालूम हो कि दुष्यंत घोरपड़े सालों से पंछियों के पीने की पानी व्यवस्था के लिए अभियान चला रहे हैं। पहले वे अपने घर के पेड़ों पर सकोरा लटकाया करते थे। अब कई जगह सकोरे लटकाते हैं। गर्मी में हर साल पंछियों को पानी उपलब्ध कराने वे सक्रिय हो जाते हैं।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें