Naidunia
    Thursday, December 14, 2017
    PreviousNext

    दूसरे के नाम से नौकरी करने वाले शिक्षाकर्मी को जमानत नहीं

    Published: Sat, 20 May 2017 04:02 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 04:02 AM (IST)
    By: Editorial Team

    बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    न्यायालय ने दूसरे नाम पर शिक्षाकर्मी वर्ग तीन के पद में काम करने के आरोपी का अग्रिम जमानत आवेदन खारिज कर दिया है।

    कोरबा जिला के पाली थाना क्षेत्र के ग्राम चोढ़ी निवासी दिलहरण यादव पिता चैतराम यादव(32) ने रतनपुर नगर पंचायत में शिक्षाकर्मी वर्ग 3 के लिए आवेदन दिया था। उसने विनय कुमार सिंह की मार्कशीट में अपनी फोटो चस्पा कर खुद को विनय कुमार बताया। इसकी नियुक्त कर दी गई। 8 वर्ष तक नौकरी करने के बाद खुलासा हुआ कि वह विनय कुमार सिंह नहीं है। 10 मार्च 2017 को मामले की रतनपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने धारा 420, 467, 468 के तहत अपराध पंजीबद्घ किया है। इसके बाद आरोपी ने जिला एवं सत्र न्यायालय में अग्रिम जमानत आवेदन पेश किया था। पंचम अपर सत्र न्यायाधीश यशवंत वासनीकर ने सुनवाई के बाद अग्रिम जमानत आवेदन को खारिज कर दिया है।

    और जानें :  # Do not get bail for educationist
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें