Naidunia
    Sunday, May 28, 2017
    PreviousNext

    एक ही दिन में 2.2 डिग्री गिरा पारा, अब भी झुलसा रही धूप

    Published: Sat, 20 May 2017 04:04 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 04:04 AM (IST)
    By: Editorial Team

    बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    भीषण गर्मी पड़ने के बाद शहर के तापमान में लगातार गिरावट आ रही है। शुक्रवार को एक ही दिन में पारा 2.2 डिग्री कम हो गया और शहर का अधिकतम तापमान 42.4 डिग्री दर्ज किया गया। हालांकि इसके बाद भी दोपहर में धूप अभी भी झुलसा रही है। इससे सुबह से लेकर शाम तक उमस और गर्मी से राहत नहीं मिल रही है।

    शहर में तापमान अब कम होने लगी है। सप्ताह की शुरुआत में सोमवार को जहां सीजन का सर्वाधिक तापमान 47 डिग्री दर्ज किया गया, जो कि प्रदेशभर के शहरों में सबसे अधिक था। वहीं उसके बाद से तापमान में लगातार गिरावट आने लगी। हालांकि इसके बाद भी गुरुवार तक शहर प्रदेशभर में सबसे गर्म रहा। वहीं शुक्रवार को अचानक दो डिग्री तापमान कम हो गया। गुरुवार को जहां 44.6 डिग्री तापमान था तो शुक्रवार को 2.2 डिग्री कम होकर 42.4 डिग्री हो गया। वहीं सर्वाधिक तापमान के मामले में शहर दूसरे स्थान पर पहुंच गया। प्रदेश में सर्वाधिक तापमान रायपुर में 43.3 डिग्री रहा। तापमान कम होने से शुक्रवार को लू नहीं चली। हालांकि लोग सुबह से लेकर शाम तक गर्मी से हलाकान होते रहे। मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों का कहना है कि इन दिनों उत्तर प्रदेश के छत्तीसगढ़ से लगे सीमावर्ती इलाके में कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। अगले दो से तीन दिनों में तापमान में गिरावट आने के साथ ही इस सिस्टम के असर से बादल छाने और हल्की बारिश की स्थिति भी बन सकती है। वहीं मानसून के 10 जून के आसपास आने की संभावना जताई गई है।

    तापमान में इस तरह आई गिरावट

    दिन सर्वाधिक तापमान अंतर

    सोमवार 47 डिग्री -- (प्रदेश में सीजन का सर्वाधिक)

    मंगलवार 46.4 डिग्री 0.6 डिग्री कम

    बुधवार 45.9 डिग्री 0.5 डिग्री कम

    गुरुवार 44.6 डिग्री 1.3 डिग्री कम

    शुक्रवार 42.4 डिग्री 2.2 डिग्री कम

    और जानें :  # Dropped two degrees at the same day
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी