Naidunia
    Thursday, June 29, 2017
    PreviousNext

    राज्य के 55 बीएड कॉलेजों को मान्यता समाप्त करने का नोटिस

    Published: Sat, 18 Mar 2017 09:30 AM (IST) | Updated: Mon, 20 Mar 2017 09:55 AM (IST)
    By: Editorial Team
    bed college room 2017318 9384 18 03 2017

    बिलासपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) ने छत्तीसगढ़ के 55 बीएड कॉलेजों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। ऑनलाइन शपथ पत्र नहीं देने पर एनसीटीई ने कहा है कि क्यों न आपकी संस्था की मान्यता समाप्त कर दी जाए। शिक्षकों व कर्मचारियों की नियुक्ति, वेतन, प्रवेश व इंफ्रास्ट्रक्चर पर ऑनलाइन शपथ पत्र जमा नहीं करने वालों की सूची में गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय, मैट्स यूनिवर्सिटी सहित रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर विवि के कॉलेज भी शामिल हैं।

    एनसीटीई ने देश के 8,177 बीएड कॉलेजों को ऑनलाइन शपथ पत्र जमा नहीं करने पर शोकाज नोटिस जारी किया है। इनमें प्रदेश के 55 बीएड कॉलेजों का नाम भी शामिल है। शिक्षा में गुणवत्ता, प्राध्यापक-कर्मचारियों की नियुक्ति, वेतनमान सहित सुविधा संसाधन को लेकर पारदर्शिता नहीं बरतने वाली संस्थाओं के खिलाफ सख्त रवैया अपनाते हुए मान्यता खत्म करने की चेतावनी दी गई है। नोटिस के बाद राज्य के शिक्षा महाविद्यालयों में हड़कंप मच गया है। पत्र में एनसीटीई ने कहा है कि बीएड, एमएड, बीपीएड, एमपीएड, बीटीसी, एनटीटी की पढ़ाई में लापरवाही उजागर हुई है।

    इसमें एक ही शिक्षक द्वारा कई संस्थाओं में अध्यापन करना भी शामिल है। इसके अलावा शोध का स्तर गिरता जा रहा है। शैक्षिक गुणवत्ता में सुधार के लिए जानकारी मांगी गई थी। एनसीटीई ने ऐसे कॉलेजों को 17 अप्रैल का अल्टीमेटम दिया है। वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन शपथ पत्र नहीं देने पर सीधे मान्यता खत्म होगी।

    80 कॉलेजों ने दिया शपथ पत्र : प्रदेश में कुल 135 बीएड कॉलेज हैं। उनमें से 80 संस्थाओं ने ऑनलाइन

    शपथ पत्र जमा किया है।

    ऑनलाइन शपथ पत्र की प्रक्रिया थोड़ी कठिन है। इसकी वजह से अधिकांश कॉलेज जमा नहीं कर सके होंगे। वर्कशॉप आयोजित कर जागरूक करने का प्रयत्न करेंगे। 17 अप्रैल तक अंतिम समय है। -डॉ.निशी भामरी, डीन, शिक्षा संकाय, बिलासपुर विश्वविद्यालय

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी