Naidunia
    Tuesday, August 22, 2017
    PreviousNext

    पंडा के बयान के बाद नंदिनी और बेला को गिरफ्तार करने की मांग

    Published: Sat, 20 May 2017 07:32 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 07:32 AM (IST)
    By: Editorial Team

    0 नंदिनी ने कहा-संघी दुष्प्रचार कर रहे, ऐसे तो सबको जेल में डाल दो

    रायपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

    सुकमा जिले के चिंतागुफा के पूर्व सरपंच पोड़ियम पंडा के बयान के बाद पुलिस समर्थित गुटों ने दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रोफेसर नंदिनी सुंदर और सामाजिक कार्यकर्ता बेला भाटिया की गिरफ्तारी की मांग तेज कर दी है। सोशल मीडिया पर इन दोनों की गिरफ्तारी की मुहिम चलाई जा रही है। लीगल राइट्स आब्जर्वेटरी नाम के संगठन ने लिखा है कि दोनों की गिरफ्तारी कर तत्काल मुकदमा चलाया जाए। ज्ञात हो कि पुलिस ने चिंतागुफा के पूर्व सरपंच पंडा को 3 मई को पकड़ा था, लेकिन इसकी सूचना उसके परिजन को नहीं दी। मामले में उसकी पत्नी ने हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका लगाई तो पुलिस ने कहा- उसने सरेंडर किया है। 12 मई को उसे मीडिया के सामने पेश किया गया, जिसमें उसने कहा कि वह नंदिनी सुंदर और बेला भाटिया को नक्सलियों से मिलवाता रहा है। इसके बाद से कल्लूरी समर्थक दोनों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। दोनों को नक्सलियों का शहरी नेटवर्क बताया जा रहा है। कल्लूरी समर्थकों का कहना है कि दिल्ली व दूसरे शहरों में सैकड़ों लोग नक्सलियों के पेरोल पर काम कर रहे हैं। ये मीडिया, एनजीओ, मानवाधिकारी, न्यायपालिका और राजनीतिकों का मुखौटा लगाए हैं। बस्तर में पिछले ढाई साल में नक्सलियों के विरूद्घ सफल आपरेशन चला रहे जाबांज आईजी एसआरपी कल्लूरी को इन्हीं शहरी नक्सलियों के दबाव में ट्रांसफर किया गया, जिसके बाद नक्सली दो बड़े हमले कर चुके हैं।

    क्या कहती हैं नंदिनी और बेला

    बेला भाटिया इन दिनों बस्तर में रहकर मानवाधिकारों की रक्षा का काम कर रही हैं। उन्होंने कहा मैं तो कभी नक्सलियों से मिली भी नहीं। पंडा के साथ उसकी बाइक पर उसके गांव तक गई थी। यह कई साल पुरानी बात है। आरोप पुलिस लगवा रही है। वहीं नंदिनी सुंदर ने दिल्ली से फोन पर कहा कि नक्सलियों से मिलना अगर अपराध है तो कई पत्रकारों को भी जेल भेज देना चाहिए। उन्होंने कहा पुलिस और संघी लोग दुष्प्रचार कर रहे हैं। मैं पंडा के साथ कभी किसी नक्सली से नहीं मिली। उस पर पुलिस का दबाव है।

    19 अनिल 03

    10.01

    सं. आरकेडी

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें