Naidunia
    Saturday, August 19, 2017
    PreviousNext

    'उज्जवला' को पाने के लिए ग्रामीण लगा रहे हैं 40 किमी का चक्कर

    Published: Sat, 20 May 2017 04:02 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 01:16 PM (IST)
    By: Editorial Team
    villagers 2017520 131341 20 05 2017

    कोरबा। उज्ज्वला का लाभ ले रहे ग्रामीण हितग्राहियों को गैस सिलेंडर रिफिलिंग के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही। कई हितग्राही 30 से 40 किलोमीटर की दूरी का लंबा चक्कर लगा रहे, तो रिफिलिंग के लिए नजदीकी सुविधा के नाम पर वितरक दो से तीन गुना शुल्क वसूल रहे।

    शासन ने उज्ज्वला के तहत अधिकतम 19 रुपए का परिवहन शुल्क निर्धारित किया है, चाहे वितरक को 50 किलोमीटर ही क्यों न जाना पड़े। तय शुल्क के विपरीत 30 से 50 रुपए की वसूली कर हितग्राहियों की जेब काटी जा रही है।

    रसोई पकाने चूल्हे में घरेलु ईंधन के रूप में लकड़ी व कोयले का इस्तेमाल न हो, इसके लिए शासन ने उज्ज्वला की सुविधा दी है। यह सुविधा प्राप्त करने ग्रामीण क्षेत्र के उज्ज्वला कनेक्शनधारियों को काफी परेशान होना पड़ रहा है।

    दरअसल शासन ने अब तक ग्रामीण क्षेत्रों में गैस सिलेंडर रिफिलिंग की सुविधा सुलभ बनाने ग्रामीण वितरकों की नियुक्ति नहीं की है। इस बात का फायदा उठाकर कई एजेंसी संचालक मनमानी कर रहे हैं। सिलेंडर भराने की मजबूरी व जानकारी के अभाव में सुदूर वनांचल के हितग्राही सिलेंडर लेकर 30 से 40 किलोमीटर दूर एजेंसियों तक जाने मजबूर हैं।

    उज्ज्वला के ज्यादातर हितग्राही आर्थिक तौर पर कमजोर परिवारों से हैं। ऐसे में उनके लिए स्वयं का वाहन नहीं होने के कारण वे बस या साइकिल पर सिलेंडर बांधकर यह दूरी तय करने मजबूर होते हैं। दूसरी ओर जहां वितरक वाहन में गांव के नजदीक सिलेंडर रिफिलिंग करा रहा, वहां हितग्राहियों ने शासन से निर्धारित 19 रुपए के परिवहन शुल्क की बजाय 30 से 50 रुपए की वसूल रहे।

    पाली वितरक नहीं पहुंचाता सिलेंडर

    शासन के निर्देश के अनुसार वितरकों को गांव-गांव में पहुंचकर गैस सिलेंडर की रिफिलिंग करानी है, ताकि उज्ज्वला कनेक्शनधारियों को अपने गांव के नजदीक ही सुविधा मिल सके। नियमानुसार उपभोक्ता के घर के 5 किलोमीटर के दायरे में गैस सिलेंडर की रिफिलिंग सुविधा मिलनी चाहिए।

    बावजूद इसके पाली का वितरक यह सुविधा नहीं दे रहा। मजबूरन उज्ज्वला के हितग्राही 30 से 40 किलोमीटर दूर से कड़ी मशक्कत कर सिलेंडर रिफिलिंग कराने पाली पहुंचते हैं। इनमें पाली से 30 से 40 किलोमीटर दूर स्थित कर्राकोड़ार, जेमरा-बगबरा, तेलसरा, उड़ान, सपलवा, पहाड़गांव, रतखंडी समेत अन्य गांव के उज्ज्वला हितग्राही शामिल हैं।

    मड़वारानी नाका में तीन गुना शुल्क

    करतला में संचालित गैस एजेंसी से वितरक ने अपने एलपीजी उपभोक्ताओं को गैस सिलेंडर रिफिलिंग की सुविधा देते हुए 50 किलोमीटर दूर मड़वारानी नाका में एक सेंटर खोल रखा है। मड़वारानी सेंटर में करीब 300 से 400 कनेक्शन हैं, जहां उपभोक्ताओं की संख्या व जरूरत के आधार पर सिलेंडर रखा जाता है।

    यहां से 7 किलोमीटर दूर सोहागपुर समेत आसपास के 25 गांव के हितग्राही रिफिलिंग कराने पहुंचते हैं। 710 रुपए की रिफिलिंग में सबसिडी की राशि तो हितग्राही के बैंक खाते में जमा हो जाती है, लेकिन करतला से इतनी दूर रिफिलिंग की सुविधा देने के एवज में वितरक 30 से 50 रुपए की वसूली कर लेते हैं।

    कांवर में लेकर जाते हैं भराने

    सोहागपुर की अमरीका बाई का कहना है कि पूरा साल गुजरने जा रहा है, लेकिन आज तक उनके गांव या आसपास कभी कोई सिलेंडर पहुंचाने नहीं आया, इसलिए खाली सिलेंडर लेकर साइकिल से 7 किलोमीटर दूर मड़वारानी जाना पड़ता है। कई लोग तो कांवर में लेकर जाते हैं।

    30 रुपए लेता है संचालक

    हिरणबाई का कहना है कि करतला से भरा गैस सिलेंडर लाकर यहां मड़वारानी में बदलने के लिए वह हमसे 30 रुपए का शुल्क लेता है। सिलेंडर में गैस भराने वाहन पर यहां तक लाने का शुल्क 19 रुपए है, इसकी जानकारी नहीं है। यहां सभी हर बार उसे 30 रुपए ही शुल्क देते आ रहे।

    एजेंसी वालों को गांव-गांव में अपने वाहन के जरिए सिलेंडर रिफिलिंग करने की सुविधा प्रदान करने के निर्देश हैं, ताकि उपभोक्ताओं को दूर जाने की मशक्कत न करनी पड़े। एक बार में हितग्राहियों की संख्या के अनुसार 20 से 25 सिलेंडर लेकर गाड़ियां गांव तक पहुंचानी है। गांव में उज्ज्वला का आवेदन लेने नियुक्त किए गए कर्मी को ही इसकी जिम्मेदारी दी गई है, जहां एक स्थान पर केंद्र बनाकर सिलेंडर रिफिल करना है। दूरी चाहे 5 किलोमीटर हो या 50 किलोमीटर, शासन ने अधिकतम 19 रुपए का परिवहन शुल्क निर्धारित किया है। - मनोज कुमार त्रिपाठी, सहायक खाद्य अधिकारी

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें