Naidunia
    Saturday, June 24, 2017

    इंश्योरेंस कंपनी पर 14 लाख हर्जाना

    Sat, 24 Jun 2017 12:15 AM (IST)

    जिला उपभोक्ता फोरम ने शुक्रवार को एसबीआई जनरल इंश्योरेंस कंपनी पचपेड़ी नाका रायपुर के शाखा प्रबंधक के खिलाफ आदेश पारित करते हुए बीमा दावा सहित 14 लाख रुपए हर्जाना देने कहा है। प्रकरण के मुताबिक परिवादी खुर्सीपार निवासी रवि शर्मा ने डेयरी व्यवसाय शुरू करने के लिए भारतीय स्टेट बैंक सौभाग्य काम्प्लेक्स दुर्ग से 67 हजार रुपए लोन लिया था। ला

    शिविर के समापन पर एनसीसी कैडेटों ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुति

    Sat, 24 Jun 2017 12:07 AM (IST)

    रविशंकर स्टेडियम दुर्ग में 37वीं छग बटालियन एनसीसी दुर्ग द्वारा आयोजित वार्षिक प्रशिक्षण शिविर शुक्रवार को समाप्त हो गया। अंतिम दिन कैडेटों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी। इस मौके पर शिविर के दौरान विभिन्ना प्रतियोगिता में भाग लेने वाले कैडेटों को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित कर्नल एसडी शर्मा कमान

    जनपद अध्यक्ष सहित सदस्यों ने किया बैठक का बहिष्कार

    Fri, 23 Jun 2017 11:46 PM (IST)

    शुक्रवार को जनपद पंचायत पाटन के सामान्य सभा की बैठक थी जिसमे पाटन जनपद क्षेत्र के अधिकांश सदस्य उपस्थित हुए, लेकिन जनपद सीईओ प्रिया गोयल बैठक में उपस्थित नहीं हुई। इससे सभी सदस्य नाराज हो कर बैठक का बहिष्कार करके जिला सीईओ को उक्त घटना क्रम से अवगत कराने अध्यक्ष हर्षालोकमनी चंद्रकार के नेतृत्व में सभी सदस्य दुर्ग गए। सदस्यों द्वारा बताया ग

    जाति प्रमाणपत्र के लिए अभिभावकों के कागजात बनाने की जिम्मेदारी भी अब शिक्षकों पर

    Fri, 23 Jun 2017 11:41 PM (IST)

    स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण पत्र बनाने में अभिभावकों के कागजात की कमी की समस्या को दूर करने के लिए प्रशासन ने नई व्यवस्था की है। अब जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए जरूरी बच्चों के अभिभावकों के कागजात बनाने की जिम्मेदारी भी शिक्षकों पर डाल दी गई है। दुर्ग जिले में 45 हजार बच्चों के पास जाति प्रमाण पत्र नहीं है। इस बार सातवीं से ही जाति प्रमाण पत्र

    ई-रिक्शा की बैटरी में विस्फोट, रिक्शा चालक घायल

    Fri, 23 Jun 2017 12:05 PM (IST)

    शुक्रवार को छत्तीसगढ़ के दुर्ग शहर में ई-रिक्शा की बैटरी में धमाके का मामला सामने आया है।

    दो स्कूल बस व एसीसी के सात बड़े वाहन जब्त

    Fri, 23 Jun 2017 01:10 AM (IST)

    कलेक्टर की सख्ती के बाद एआरटीओ ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया। 12 साल पुरानी 146 कंडम बसों का रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिया गया और दो कंडम स्कूल बसों की जब्ती की गई। एसीसी जामुल फैक्ट्री के भीतर जाकर पहली बार वहां बकाया टैक्स वाले 6 और एक बिना लाइसेंस की चलाई जा रही क्रेन, लोडर व जेसीबी जब्त की गई। जब्त वाहनों को

    बस की टक्कर से स्कूल बस पलटी, 17 बच्चे घायल

    Fri, 23 Jun 2017 01:10 AM (IST)

    चंदखुरी राइस मिल के ठीक सामने गुरुवार की सुबह साढ़े ग्यारह बजे एक स्कूल बस सामने से आ रही यात्री बस से टकरा गई। घटना के बाद स्कूल बस पलट गई। इससे स्कूल बस में बैठे 17 मासूम बच्चे घायल हो गए। दो बच्चों को ज्यादा चोंटे आई हैं। दोनों बच्चों सहित शेष 15 घायल बच्चों को भारती आयुर्वेदिक कॉलेज में प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है।

    समय पर मकान बनाकर न देने पर डेवलपर पर पौने आठ लाख हर्जाना

    Fri, 23 Jun 2017 01:10 AM (IST)

    रुद्रा हाउसिंग डेव्लपर्स नेहरूनगर के संचालक के खिलाफ जिला उपभोक्ता फोरम ने आदेश पारित करते हुए पौने आठ लाख रुपए हर्जाना सहित अधूरा निर्माण के पैसे देने कहा है। प्रकरण के मुताबिक परिवादी मोहननगर दुर्ग निवासी श्रीमती अनुराधा मिश्रा ने अपने मकान बनाने का ठेका रुद्रा हाउसिंग डेव्लपर्स के संचालक गुरविंदर सिंह को दिया था। 14 नवंबर2013 को अ

    खम्हरिया पंचायत में चल रही मनमानी

    Fri, 23 Jun 2017 01:07 AM (IST)

    ग्राम पंचायत खम्हरिया (डंगनिया) में ग्राम पंचायत द्वारा जिस स्थान पर समुदाययिक भवन बनाने का प्रस्ताव लिया गया था वहां भवन नहीं बनाया जा रहा है। नियमों को धता बताते हुए शासन की बिना अनुमति के घास जमीन पर समुदाययिक भवन बनाया जा रहा है। इस भवन निर्माण से पास के ही किसान के खलिहान पर जाने का रास्ता बाधित हो रहा है। ग्राम खम्हरिया के किसान गुलाल

    तीन महीने पहले भुगतान के बाद भी किसान हैं बैंक के कर्जदार

    Fri, 23 Jun 2017 01:06 AM (IST)

    देशभर के भीतर आए दिन कर्ज में डूबे किसानआत्महत्या कर रहे हैं, वहीं किसानों की बेहतरी के लिए सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं के क्रियान्वयन में अफसर लापरवाही बरत रहे हैं। दुर्ग जिले में भी इसी तरह का मामला सामने आया है। राष्ट्रीय खाद्यान्न योजना के तहत चना फसल लेने वाले किसानों को भुगतान के लिए शासन से राशि भेजी दी गई, लेकिन बैंक ने

    अटपटी-चटपटी