Naidunia
    Friday, December 15, 2017
    PreviousNext

    मुठभेड़ में सफलता से बढ़े जवानों के हौसले, होंगे पुरस्कृत

    Published: Fri, 08 Dec 2017 03:51 AM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 01:42 PM (IST)
    By: Editorial Team
    security forces naxal 2017128 134118 08 12 2017

    कांकेर। छत्तीसगढ़ सीमा के गढ़चिरौली में सात नक्सलियों को ढेर करने के बाद सुरक्षा बल के जवानों का हौसला बढ़ा है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस ने भी जवानों का हौसला बढ़ाया है। मुख्यमंत्री देवेन्द्र ने कहा कि मुठभेड़ में शामिल सभी जवानों को आउट ऑफ टर्न प्रमोशन दिया जाएगा और पुरस्कृत भी किया जाएगा।

    पिछले कुछ दिनों से लगातार चल रहे नक्सली तांडव से पुलिस जवानों के साथ-साथ ग्रामीण भी परेशान थे। घटनास्थल सिरोंचा के पास कल्लेड़ के जंगलों में गुरुवार को भी सर्चिंग जारी रही। घटनास्थल के आसपास खून के छींटे व घसीटे जाने के निशान यह बताते हैं कि मारे गए अथवा घायल नक्सलियों की संख्या 7 से ज्यादा हो सकती है।

    जिले की नक्सली विरोधी अभियान की कमान सम्हाल रहे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. महेश्वर रेड्डी ने बताया कि इस इलाके से नक्सलियों का खात्मा करना हमारा लक्ष्य है। इसीलिए हमने गश्त करने वाले जवानों की संख्या और सर्चिंग दल में इजाफा किया है।

    चारों तरफ से घेराबंदी की जा रही है ताकि गोली लगे हुए घायल नक्सली इलाज कराने जंगलों से बाहर ना निकल सके। इसके अलावा आसपास के ग्रामीणों से यह भी पता लगाया जा रहा कि क्या नक्सली अपने कुछ और मारे गए साथियों का अंतिम संस्कार करने अथवा इलाज में किसी की मदद ले रहे हैं।

    मारे गए नक्सलियों में से छह की पहचान हो चुकी है, जिनमें सभी इनामी हैं। मात्र एक महिला नक्सली के शव का पहचान नहीं हो पाया। मंगलवार की शाम तक पुलिस शव लेने वाले परिजनों का इंतजार करेगी, यदि शव पर अधिकार बताने कोई सामने नहीं आएगा तो पुलिस अंतिम संस्कार कर देगी।

    मारे गए नक्सलियों में एक छग से

    गढ़चिरौली पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिनव देशमुख के अनुसार कल्लेड़ मुठभेड़ में सात बरामद शवों में छह की शिनाख्त हो चुकी है। जिसमें आयतु उर्फ अशोक कंगा पेदाम (38) ग्राम लिंगमपल्ली, तहसील अहेरे, जिला गढ़चिरौली इनामी 8 लाख, सरिता ग्राम कवंड़े जिला बीजापुर छग, चंदू निवासी सिंरोचा, इनामी छह लाख रूपए, शैला निवासी पोकुर तहसील भामरगढ़ इनामी 2 लाख रूपए, अखिला कुलमेथे ग्राम कपेवनचा तहसील अहेरी चार लाख की इनामी, सुनीता कोडापे ग्राम सिंघा तहसील अहेरी इनामी 6 लाख रूपए है। इनमें से एक महिला नक्सली शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें