Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    चिटफंड कंपनी खोलकर 15-20 करोड़ का चूना लगाने वाला मैनेजर गिरफ्तार

    Published: Wed, 13 Sep 2017 08:38 PM (IST) | Updated: Wed, 13 Sep 2017 08:38 PM (IST)
    By: Editorial Team

    राजिम। नईदुनिया न्यूज

    चिटफंड कंपनी खोलकर लोगों से 15-20 करोड़ रुपए वसूल कर फरार कंपनी के मैनेजर अनुपम विश्वास को गरियाबंद पुलिस ने बुधवार को प. बंगाल से गिरफ्तार कर राजिम लाया। उसे रिमांड में लिया गया है। प्रकरण में विवेचना थाना प्रभारी राजिम निरीक्षक दीपेश सैनी कर रहे हैं।

    राजिम मुख्यालय में प्रेस कांन्फ्रेंस कर मामले का खुलासा करते हुए एडिशनल एसपी नेहा पांडेय ने बताया कि कुछ साल पहले राजिम के श्यामाचरण शुक्ल चौक स्थित कुलेश्वर मेडिकल की ऊपरी मंजिल में संचालित आईआरएल नामक चिटफंड कंपनी तीन साल के भीतर राजिम सहित कई जिले के लोगों की करीब 15 से 20 करोड़ की राशि हजम कर फरार हो गई। लंबी जद्दोजहद के बाद गरियाबंद पुलिस को सफलता हाथ लगी और उसके मैनेजर अनुपम विश्वास को पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार कर राजिम लाया गया। सन 2010 से 2013 तक संचालित इन्फिनिटी रियलकॉन लिमिटेड का मैनेजर अनुपम विश्वास पिता हरेकृष्ण विश्वास (44 साल) निवासी शिमुलिया पारा थाना गयीघटा जिला नार्थ, पं. बंगाल था।

    झोलाछाप डॉक्टर से बना मैनेजर

    इस चिटफंड कंपनी के मैनेजर अनुपम विश्वास 1996 में प. बंगाल से अपने एक दोस्त के पास छुरा आया। इस बीच कई जगह झोलाछाप डॉक्टरी भी की। वे कभी-कभी प. बंगाल अपने घर भी जाते थे। उस समय कई राज्यों में चिटफंड चलता था। जिसकी ट्रेंनिग लेकर आया और राजिम, रायपुर, विश्रामपुर में अपना ब्रांच खोलकर छग में पैर पसारने का प्रयास करता रहा लेकिन सफलता राजिम में ही मिली। देखते ही देखते यहां हजारों में ग्राहक बनता गया। इन्होंने अपना खाता राजिम के एक्सीस बैंक में अलग-अलग खोल रखा था। निवेश की सारी राशि एक दिन में ही कलकत्ता ट्रांसफर करवा देता था। इस तरह कुल 15 से 20 करोड़ की चपत लगाई है।

    ऐसा था इनका झांसा

    इस कंपनी ने पहले फिक्स डिपाजिट, आरडी, मंथली इनकम सेंविग प्लान बनाया और सभी में 11 से 15 प्रतिशत ब्याज देने का लालच दिया जिसके झांसे में लोग आते गए। पहले तो छोटे रकम वालों को अच्छी खासी ब्याज सहित राशि वापस देकर भरोसा जताया फिर लोग ज्यादा राशि जमा करने लगे जो अब तक वापस नहीं हुआ।

    कंपनी के चीफ डायरेक्टर ओडिशा जेल में

    आईआरएल मल्टीप्राइड कंपनी का कार्यालय ओडिशा, छत्तीसगढ़, प. बंगाल राज्यों में संचालित था। कंपनी के चीफ डायरेक्टर प्रणव मुखर्जी व प्रवीण मुखर्जी ओडिशा राज्य के प्रकरण में ओडिशा भद्रक जेल में बंद हैं। जिनकी गिरफ्तारी करने पुलिस टीम भेजी जाएगी। उपरोक्त कंपनी के पदाधिकारियों की पता तलाश किया जा रहा है।

    --------

    वर्जन

    हमारी टीम ने प. बंगाल में कंपनी के मैनेजर को गिरफ्तार कर राजिम लाया। चिटफंड कंपनी आईआरएल प्राइल मल्टीस्टेड क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसाइटी लिमिटेड में जिन हितग्राहियों द्वारा रकम निवेश कराया गया है वे अपने बांड पेपर के मूल प्रति सहित थाना राजिम आकर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

    -नेहा पांडेय, ए.एसपी

    और जानें :  # cg news. gariaband news.
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें