Naidunia
    Monday, March 27, 2017
    PreviousNext

    दंतेवाड़ा में जिला शिक्षाधिकारी के घर एक लाख नकद, 12 तोला सोना मिला

    Published: Thu, 16 Feb 2017 06:24 PM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 04:36 PM (IST)
    By: Editorial Team
    raid 2017216 192128 16 02 2017

    दंतेवाड़ा। गुरुवार को जिला शिक्षाधिकारी सुभाष गंजीर के शासकीय आवास पर एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) दबिश दी। रायपुर से अधिकारी सत्यप्रकाश सिंह, प्रमोद खेस के नेतृत्व में पहुंची छह सदस्यीय टीम सुबह करीब सात बजे आवास पर दबिश दी। कार्रवाई दोपहर बाद तक चलती रही। टीम आवास से लगे शिक्षाधिकारी कार्यालय में भी पहुंच उनकी सेवा पुस्तिका, चेक बुक आदि को अपने कब्जे में लिया।

    इस बीच अन्य कर्मचारी शासकीय कार्य निपटाते रहे। कार्रवाई के दौरान आवास कैंपस का दरवाजा बंद कर सुरक्षा के लिए स्थानीय पुलिस जवानों की तैनाती कर रखी थी। छापेमारी में शामिल अधिकारी मीडिया से दूरी बनाए रखी और जानकारी मुख्यालय उपलब्ध कराने की बात कही। इस बीच बताया गया अधिकारी के आवास से नगद के रुप में एक लाख छह हजार 700 रुपए तथा 12 तोला सोने के जेवरात मिले हैं। जिसकी बाजार कीमत करीब साढ़े तीन लाख बताई जा रही है।

    एसीबी की टीम में जांच के दौरान जेवरात की पहचान और तौल के लिए स्थानीय सोनार को बुलाया गया। जो इलेक्ट्रानिक तराजू लेकर पहुंचा था। बताया गया कि आवास में आधे जेवर आर्टिफिशियल थे। टीम के सदस्यों ने आवास से कुछ बैंक पासबुक, एटीएम कार्ड और शासकीय दस्तावेज जब्त किया है।

    चार साल से पदस्थ थे

    जिला शिक्षाधिकारी सुभाष गंजीर पिछले चार साल से दंतेवाड़ा में पदस्थ थे। बताया जा रहा है कि गंजीर शिक्षामंत्री केदार कश्यप के करीबी हैं। उनकी अनुशंसा पर चार साल पहले उन्हें जिला शिक्षाधिकारी बनाकर दंतेवाड़ा भेजा गया था। इस दौरान उनका अधीनस्थ व उच्चाधिकारियों से अच्छे संबंध थे।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी