Naidunia
    Monday, November 20, 2017
    PreviousNext

    प्लास्टिक चावल को लेकर सतर्क हुआ प्रशासन

    Published: Thu, 14 Sep 2017 07:41 PM (IST) | Updated: Thu, 14 Sep 2017 07:41 PM (IST)
    By: Editorial Team

    0.खाद्य निरीक्षक ने दुकानों से लिया चावल के नमूने

    फोटो 14 जेएसपी 18 : चावल का नमूना लेते अधिकारी

    पत्थलगांव। नईदुनिया प्रतिनिधि। प्लास्टिक से बने चावल को लेकर प्रशासन द्वारा जांच प्रारंभ कर दी गई है। कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीलम ठाकुर ने विकासखंड के विभिन्न स्थानों से चावलों के नमूने एकत्र किए। खाद्य निरीक्षक मनीष अग्रवाल भी इस दौरान उपस्थित रहे।

    प्लास्टिक से बने चावलों का मुद्दा एक अर्से से शासन के लिए सिरदर्द बना हुआ है। प्रदेश के अलग-अलग भागों से इस प्रकार के मामले सामने आने के बाद शासन द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत्‌ वितरित किए जाने वाले चावलों के साथ ही शासकीय संस्थाओं में प्रयोग में लाए जाने वाले चावलों की जांच के निर्देश दिए गए गए हैं। इसके अनुक्रम में कलेक्टर डॉ प्रियंका शुक्ला द्वारा भी जिले में पीडीएस के चावल की जांच के निर्देश जारी किए गए हैं। हालांकि जिले में प्लास्टिक के बने चावलों का कोई मामला अब तक सामने नहीं आया है परंतु एहतियातन प्रशासन द्वारा इसकी जांच की जा रही है। इसके लिए जिला स्तर पर जांच दल बनाया गया है जिसमें खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीलम ठाकुर तथा सैंपलिंग सहायक रविकांत गुप्ता के अलावा स्थानीय खाद्य निरीक्षक को भी शामिल किया गया है। गुरुवार को खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीलम ठाकुर ने विकासखंड के विभिन्न शासकीय संस्थाओं से चावलों के नमूने एकत्र किए। पत्थलगांव के खाद्य निरीक्षक मनीष अग्रवाल भी उनके साथ उपस्थित रहे। खाद्य सुरक्षा अधिकारी नीलम ठाकुर ने बताया कि कलेक्टर के निर्देशानुसार सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत संचालित उचित मूल्य दूकानों, स्कूलों में बनने वाले मध्या- भोजन तथा शासकीय भंडारण स्थलों से चावलों के नमूने लिए जाने हैं। उन्होंने बताया कि जांच दल ने ग्राम पंचायत बालाझर में संचालित उचित मूल्य दूकान के साथ ही पंचायत में संचालित प्राथमिक शाला बालाझर में मध्या- भोजन के नमूने लिए गए हैं। इसमें स्कूल में मध्या- भोजन के लिए तैयार किए गए चावलों के नमूने भी शामिल हैं। इसके साथ ही केराकछार स्थित शासकीय वेयर हाउस से भी चावलों का सैंपल लिया गया है। खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि नमूने एकत्र करने के लिए शासकीय संस्थाओं का चयन किया गया है। उन्होंने बताया कि पत्थलगांव विकासखंड के बाद अन्य विकासखंडों से भी चावलों के नमूने लिए जाएंगे। एकत्रित नमूनों को जांच के लिए रायपुर स्थित प्रयोगशाला में भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रयोगशाला की रिपोर्ट को कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

    कलेक्टर से मिले निर्देशों के अनुक्रम में प्लास्टिक से बने चावलों की जांच के लिए दल बनाया गया है। जांच दल ने विभिन्न स्थानों से चावलों के नमूने एकत्रित किए हैं। इन्हें जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजा जाएगा। रिपोर्ट कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत की जाएगी।

    नीलम ठाकुर,खाद्य सुरक्षा अधिकारी

    -----------------

    और जानें :  # plastik chaval ko lekar
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें