Naidunia
    Friday, April 28, 2017
    PreviousNext

    13 नए हाईस्कूल भवन का होगा निर्माण

    Published: Fri, 21 Apr 2017 10:52 PM (IST) | Updated: Fri, 21 Apr 2017 10:52 PM (IST)
    By: Editorial Team

    प्रत्येक पर खर्च होंगे 62.83 लाख रुपए

    0 केंद्र ने जारी की राशि

    पᆬोटो नंबर-21केओ27

    कोरबा। नईदुनिया प्रतिनिधि

    सुदूर ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत हाईस्कूलों को संचालन किया जा रहा है। बीते शैक्षणिक सत्र में उन्नयन किए गए 13 नए हाईस्कूलों के लिए भवन की स्वीकृति के बाद राशि आवंटन हो गई है। प्रत्येक स्कूलों का निर्माण 62 लाख 83 हजार की लागत से की जाएगी। निर्माण के लिए प्रथम की किश्त के तौर पर 15.70 लाख प्रत्येक भवन के लिए जारी की गई है। निर्माण एजेंसी लोक निर्माण विभाग को बनाया गया है।

    मिडिल स्कूल पढ़ाई के बाद दूरदराज के गांव में जाकर पढ़ाई करने की समस्या से छात्र-छात्राओं को निजात दिलान स्कूलों का उन्नयन किया जा रहा है। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (आरएमएसए) के माध्यम से अब तक 68 स्कूलों को उन्नयन किया जा चुका है। इसी कड़ी में शैक्षणिक सत्र 2016-17 में 13 मिडिल स्कूलों को हाईस्कूलों में उन्नयन किया गया है। पिछले वर्ष इन स्कूलों में 9वीं कक्षा संचालित हुई है। इस वर्ष दसवीं कक्षा भी संचालित होगी। वर्तमान में हाईस्कूल की कक्षाएं मिडिल में ही लग रही है। नए सत्र से भवन निर्माण के बाद संचालन बेहतर होगा। 62.83 लाख की लागत से निर्मित भवन में कक्षा नवमीं व दसवीं की के लिए दो कक्षाओं के अलावा प्रायोगिक कक्ष, सांस्कृतिक आयोजन के लिए हाल, कंप्यूटर रूम, लाइब्रेरी, टीचर रूम आदि का निर्माण अनिवार्य होगा।

    बाक्स

    हायर सेकेंडरी स्कूल की समस्या

    अब तक जहां हाईस्कूल संचालन 3 से 4 साल हो चुका है, वहां हायर सेकेंडरी की सुविधा नहीं होने के कारण अध्ययनरत विद्यार्थियों में भटकाव की स्थिति देखी जा रही है। अजगरबहार में हाईस्कूल संचालन को लगभग 10 वर्ष हो चुका है। स्कूल का उन्नयन नहीं होने कारण 12वीं की पढ़ाई के लिए छात्रों खासकर छात्राओं को पढ़ाई से वंचित होना पड़ रहा है।

    बाक्स

    शिक्षकों की कमी यथावत

    स्कूलों का उन्नयनय जिस रफ्तार से किया गया है, उस लिहाज से अब तक शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो सकी है। शिक्षकों की कमी से शहरी को छोड़ शेष सभी ग्रामीण क्षेत्र के स्कूल जूझ रहे हैं। एक अथवा दो शिक्षकों के भरोसे संचालित हाईस्कूल का परीक्षा परिणाम प्रभावित है। भर्ती प्रक्रिया के बाद भी दूर गांव में कोई शिक्षक नहीं जाना चाहते।

    बाक्स

    यहां बनेंगे स्कूल

    विकासखंडग्राम पंचायत

    कटघोरादर्री, विजयनगर, बरेली

    कोरबाबुंदेली, पᆬुलसरी, चिर्रा

    करतलाबड़मार, पीड़िया

    पालीसपलवा, पोटापानी, हरनमुड़ी

    पोड़ी-उपरोड़ातनेरा, पाली

    वर्सन

    बीते शैक्षणिक सत्र में 13 स्कूल का उन्नयन किया गया था। इन स्कूल में नया भवन का निर्माण किया जाना है। प्रत्येक स्कूल के लिए 62.83 लाख के मान से केंद्रीय मद से राशि स्वीकृत हुई है। निर्माण के लिए प्रथम किश्त की राशि जारी हो चुकी है।

    - एमपी सिंह, परियोजना अधिकारी , राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान

    और जानें :  #13 naye haischool bhawan
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी