Naidunia
    Sunday, August 20, 2017
    PreviousNext

    चरित्र शंका पर पत्नी को दी ऐसी सजा कि वो चीखती रही लेकिन वो नहीं माना

    Published: Mon, 20 Mar 2017 12:57 AM (IST) | Updated: Tue, 21 Mar 2017 08:49 AM (IST)
    By: Editorial Team
    house wife murder 2017321 84943 20 03 2017

    कोरबा। डेढ़ माह पहले आग की चपेट में आकर जली विवाहिता की मौत के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। विवाहिता को उसके पति ने चरित्र शंका से ग्रस्त होकर मिट्टी तेल छिड़क जिंदा जला दिया था। इस घटना में उसका तीन साल का पुत्र भी झुलस गया था। उपचार के दौरान बिलासपुर में महिला की मौत हो गई थी। आरोपी पति को पुलिस ने धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया है।

    पाली थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत मुनगाडीह के बांधापारा मोहल्ला में 5 फरवरी को संगीता साय यादव (25) व उसका तीन वर्षीय पुत्र आग से बुरी तरह झुलस गए थे। रात 2 बजे घटी इस घटना के बाद महिला को बिलासपुर के सिम्स में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी, जबकि उसका पुत्र स्वस्थ हो गया था।

    मामले में पुलिस जांच कर रही थी। विवाहिता को आग कैसे लगी इस मामले में मोहल्ले के ग्रामीणों ने बताया कि संगीता के पति लाल साय उसके साथ अक्सर मारपीट किया करता था। चरित्र शंका को लेकर दोनों के बीच विवाद होता था। घटना के दिन भी दोनों के बीच काफी विवाद हुआ और उसने तैश में आकर मिट्टी तेल छिड़कर विवाहिता पर आग लगा दी।

    उस दौरान संगीता के साथ उसका पुत्र भी मौजूद था, वह भी आग की चपेट में आ गया। ग्रामीणों ने बताया कि आग लगी अवस्था में संगीता घर से बाहर निकली और उसने बताया कि पति ने उस पर मिट्टी तेल छिड़ककर आग लगा दी है। उसके बाद वह बेहोश हो गई। झुलसा संगीता का पुत्र भी रोते हुए आग लगने की कहानी बयां की और कहा कि पापा ने मम्मी को आग के हवाले कर दिया है। पुलिस ने मामले में आरोपी पति लाल साय के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें