Naidunia
    Monday, July 24, 2017
    PreviousNext

    अगर आप 19 के हैं तो वोटर बनने के लिए देना होगा शपथ पत्र

    Published: Sat, 15 Jul 2017 04:01 AM (IST) | Updated: Sat, 15 Jul 2017 12:43 PM (IST)
    By: Editorial Team
    voter id 2017715 124020 15 07 2017

    कोरबा। मतदाता सूची में अब तक नामजद नहीं हो पाए ऐसे नागरिक, जिनकी उम्र 19 साल या उससे ज्यादा है, उन्हें वोटर बनने के लिए एक नई शर्त का पालन करना होगा। अगर उन्हें मतदाता सूची में पुनः अपना नाम दर्ज कराना है, तो बीएलओ के पास शपथ पत्र लेकर पहुंचना होगा। शपथ पत्र में उन्हें यह बताना होगा कि पूर्व में उनका नाम किसी और केंद्र में जुड़ा भी था अथवा वे पहली बार आवेदन कर रहे।

    निर्वाचन विभाग के निर्देश पर एक बार फिर मतदाता सूची अपडेट करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। अभियान का उद्देश्य है कि मतदाता सूची को शुद्ध करना और पात्र मतदाताओं के नाम शामिल करना है। वर्ष 2018 में होने वाले चुनाव के मद्देनजर पुनरीक्षण कार्य जारी है।

    नए मतदाताओं को सूचीबद्ध करने के साथ अब पुरानी सूची से कटकर किसी दूसरे बूथ के दायरे में आ रहे मतदाताओं को भी जोड़ने की कार्रवाई में एक नया नियम लागू किया गया है। इसके तहत ऐसे नागरिक जिनकी उम्र 19 वर्ष या उससे ज्यादा है, उन्हें अपना नाम मतदाता सूची में शामिल कराने शपथ पत्र भी प्रस्तुत करना होगा।

    इनमें वे नागरिक हैं, जिनका नाम अब तक मतदाता सूची में नहीं जुड़ सका है या फिर किसी दूसरे वार्ड या शहर से स्थानांतरित होने पर उनका मतदान केंद्र परिवर्तित हो चुका है। ऐसे में पुनः मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने उनसे शपथ पत्र लिया जाएगा, जिसमें उन्हें यह लिखकर देना होगा कि उनका नाम पहले भी कहीं किसी अन्य केंद्र की मतदाता सूची में जुड़ा था या वे पहली बार नाम जुड़वाने के लिए आवेदन कर रहे हैं।

    एक जनवरी को बालिग युवाओं को छूट

    केंद्रों में जाकर मतदाता सूची में नाम जुड़वाने के लिए शपथ पत्र प्रस्तुत करने की बाध्यता से एक जनवरी 2017 को 18 साल के हुए युवाओं को पृथक रखा गया है। इसी साल बालिग हुए या 18 साल के होने जा रहे युवाओं को स्वयं से आगे आकर अपना नाम सूचीबद्ध कराने उन्हें जागरूक भी किया जा रहा है।

    अभियान के तहत शासन-प्रशासन स्कूल-कॉलेजों में शिविर लगाकर भी कार्यक्रम आयोजित कर रहा है, ताकि युवाओं को ज्यादा से ज्यादा प्रोत्साहित किया जा सके। इस प्रक्रिया में यह भी अपेक्षा की जा रही है कि युवा स्वयं जागरूक बनकर दूसरों को भी प्रेरित करने अहम भूमिका निभाएं और मजबूत लोकतंत्र के निर्माण में मतदान के अधिकार का हर नागरिक इस्तेमाल करें, इस उद्देश्य में सहभागी बनें।

    डोर-टू-डोर सर्वे, युवाओं को फॉर्म-6

    आगामी विधानसभा व लोकसभा निर्वाचन के मद्देनजर नए निर्देश का पालन सुनिश्चित करने तैयारी की जा रही है, जिसके लिए जल्द ही विशेष अभियान शुरू किया जाएगा। जिले की वर्तमान स्थिति की बात करें तो चार विधानसभाओं में कुल 746 मतदान केंद्र और लगभग 8.32 लाख मतदाता हैं।

    अभियान के तहत बूथ लेवल अधिकारी घर-घर दस्तक दे रहे और सर्वे कर यह आंकड़ा भी जुटा रहे हैं कि परिवार के किन सदस्यों का नाम अब भी मतदाता सूची में शामिल नहीं हो सका है।

    जिनका नाम अब तक मतदाता सूची से बाहर है, उनके आवेदन प्राप्त कर जोड़ने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी और इसके लिए प्रत्येक मतदान केंद्र में शिविर लगाने के साथ नए वोटरों को फॉर्म-6 भी दिए जा रहे हैं।

    अभी 200 कम हैं केंद्रों की क्षमता

    वर्तमान में शहरी क्षेत्र के मतदान केंद्रों में 1400 मतदाता और ग्रामीण पोलिंग बूथ में 1200 मतदाता शामिल हैं। नए निर्देश के अनुसार अब शहरी क्षेत्र के मतदान केंद्रों में 1200 तथा ग्रामीण बूथ में 1000 मतदाता होंगे।

    निर्वाचन विभाग से जारी निर्देश में मतदाता सूचियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्य की अवधि में संबंधित बीएलओ, अभिहित अधिकारी कार्यालयीन समय में अपने मतदान केंद्रों पर उपस्थित रहेंगे।

    शासन ने एक अद्यतन, स्वच्छ एवं त्रुटिरहित मतदाता सूची के निर्माण में सहयोग की आग्रह किया गया है। टोल फ्री नंबर की मदद से जारी दिशा-निर्देश के बारे में भी जानकारी ली जा सकती है। अधिक जानकारी के लिए निर्वाचन विभाग के टोल फ्री नंबर 1950 पर कॉल करने की सुविधा भी उपलब्ध है।

    बाक्स

    फैक्ट फाइल

    विधानसभा क्षेत्र4

    पोलिंग बूथ746 केंद्र

    मतदाता संख्या8.32 लाख

    युवा वोटर52 फीसदी

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी