Naidunia
    Monday, September 25, 2017
    PreviousNext

    पुष्य नक्षत्र पर बाजार में आज बरसेगा धन

    Published: Sun, 23 Oct 2016 01:59 AM (IST) | Updated: Sun, 23 Oct 2016 01:59 AM (IST)
    By: Editorial Team
    22ko15 23 10 2016

    कोरबा। नईदुनिया न्यूज

    संसार को अपने तेज से जीवन देने वाले शक्तिमान सूर्य देवता के दिन रविवार को पुष्य नक्षत्र पड़ रहा है। रविवार को पड़ रहे पुष्य नक्षत्र के महासंयोग को बड़ा ही शुभ माना जा रहा है। करीब 15 घंटे की शुभ घड़ी का लाभ उठाने बड़ी संख्या में लोगों के खरीदारी करने पहुंचने की उम्मीद की जा रही है। शुभ घड़ी और रवि पुष्य के महासंयोग पर ग्राहकों के स्वागत के लिए शहर के बाजार गुलजार रहेंगे। करोड़ों का कारोबार करने दुधिया रोशनी से सराबोर दुकानें शनिवार की शाम से ही सज-धज कर तैयार दिखाई दे रहे हैं।

    पुष्य नक्षत्र में खासतौर पर गहने-जेवर व सुंदर वस्त्रों की खरीदारी के लिए दुकानों पर दिन भर लोगों की भीड़ देखी जा सकेगी। सुबह 9 बजे से ही लाभ योग शुभ मुहूर्त शुरू होने के कारण इस दौरान पावर हाउस रोड स्थित प्रमुख बाजारों में खासी रौनक होने की उम्मीद की जा रही है। सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे और उसके बाद शाम से लेकर रात्रि 9 बजे तक शुभ-लाभ और अमृत योग होने के कारण दिनभर में करीब 15 घंटे तक जमकर खरीदारी के लिए वक्त होगा, जिसका लाभ उठाने लोगों का तांता बाजार में खासी रौनक देखने को मिल सकेगा। नक्षत्रों के राजा पुष्य नक्षत्र पर हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी अपनी खरीदारी को शुभ व लाभकारी बनाने लोग स्वागत के लिए सज-धज कर तैयार दुकानों में सुबह से ही पहुंचने लगे थे। एक सदी बाद निर्मित पवित्र महासंयोग की स्थिति का भरपूर लाभ उठाने लोगों में होड़ सी नजर आएगी। शहर में मुख्य रूप से लगभग सभी प्रकार के सामानों के लिए पावर हाउस रोड स्थित प्रमुख बाजारों में रौनक हर वर्ष बनी रहेगी। दूसरी ओर चारपहिया व दोपहिया वाहनों की खरीदारी करने पहुंचे लोग मुख्य रूप से ट्रांसपोर्टनगर और अन्य खरीदारी के लिए पुराना बस स्टैंड, बुधवारी, निहारिका, कोसाबाड़ी, बालको, जमनीपाली, जैलगांव चौक, दीपका, कटघोरा व पाली में भी लोगों ने परिवार समेत पहुंचकर जी भर के खरीदारी करते दिखेंगे।

    बुधादित्य राजयोग व स्वयंसिद्घ मुहूर्त

    ज्योतिषाचार्य एवं भगवताचार्य पंडित दशरथनंदन द्विवेदी ने कहा कि धनतेरस से पूर्व रविवार को पड़ रहे पुष्य नक्षत्र के महासंयोग पर बुधादित्य राजयोग के प्रभाव से बाजार में धनवर्षा होगी। दीपावली के आठ दिन व धनतेरस के 6 दिन पहले रवि पुष्य को खरीदारी के लिए विशेष है। रवि पुष्य नक्षत्र पर यह योग बाजार में समृद्घि की बहार लाएगा। यह नक्षत्र अपने आप में श्रेष्ठ नक्षत्र माना जाता है। रवि पुष्य नक्षत्र 15 घंटे रहेगा, जो खरीदी के लिए शुभ व स्वयं सिद्घ मुहूर्त है। यह पुष्य नक्षत्र एक दिन पूर्व 22 अक्टूबर शनिवार को रात 8.41 बजे से शुरू होगा, जो दूसरे दिन रविवार को रात्रि 8.40 बजे तक रहेगा। विशेष रूप से नए कार्य की शुरूआत, नया व्यापार, वाहन की खरीदी के लिए उत्तम योग माना जाता है। किसी विशेष कार्य के लिए इस दिन यात्रा शुरू करने से भी उद्देश्य सफल होंगे।

    दीप पर्व के कारोबार का शुभारंभ

    व्यापारी भी रवि पुष्य नक्षत्र पर खरीदारी की तिथि को लेकर पूरी तैयारी में दिखे। पुष्य नक्षत्र को धनतेरस के पूर्व अति फलकारी माना गया है। यही वजह है कि धनतेरस की तरह ही पुष्य नक्षत्र के दिन भी बाजार की रोनक में चार-चांद लग जाता है। इस तिथि से शुभारंभ होकर दीवाली तक बाजार गुलजार रहेगा। खरीदारों व व्यवसायियों के लिए शुभ योग के मद्देनजर शनिवार की रात से ही बाजार रोशन कर दिए गए थे। पुष्य नक्षत्र का शुभ योग दिन में 15 घंटे तक होने के कारण पूरे दिन शहर के प्रमुख प्रतिष्ठानों में ग्राहकों की भीड़ जुटी रहने की उम्मीद की जा रही है। शहर के साथ-साथ उपनगरीय क्षेत्रों के बाजारों में भी लोगों की गहमा-गहमी देखने को मिलेगी।

    ग्राहकों को रिझाने ऑफर का आकर्षण

    वैसे तो बाजारों की रौनक नवरात्री से लेकर बड़ी दीवाली तक बरकरार रहती है, लेकिन दशहरा के बाद खासतौर पर दीपावली के लिए कपड़ा, इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल व ज्वेलरी बाजारों में पुष्य नक्षत्र से ऑफरों की बहार सी आ जाती है। कुछ ऐसी ही स्थिति इन दिनों विभिन्न वस्तुओं की दुकानों में देखने को मिल रही है। अलग-अलग आकर्षक ऑफरों के चलते लोग खरीदारी के लिए अपने पसंदीदा दुकानों में परिवार के साथ पहुंचेंगे। महायोग पर गहनों, बाइक व चारपहिया वाहन, टीवी-फ्रिज, वाशिंग मशीन व ओवन, मिक्सी, बर्तनों की खरीदारी आकर्षण का केंद्र होंगे। बजट के अनुरूप मध्यमवर्ग नेंग निभाने सोने-चांदी के सिक्कों की बड़े पपैमाने पर खरीदारी होगी।

    करोड़ों के व्यवसाय की उम्मीद

    टीवीएस एजेंसी के संचालक विकास अग्रवाल का कहना है कि लोग शुभ मुहूर्त में खरीदारी करने निकलेंगे। रवि पुष्य नक्षत्र का योग बड़ी ही शुभ तिथि होती है, जो नई खरीदारी के साथ हर नए काम के लिए सर्वश्रेष्ठ मानी जाती है। रविवार को करोड़ों के कारोबार की उम्मीद है।

    वर्ष भर इंतजार करते हैं लोग

    पुष्पक इलेक्ट्रोनिक्स के संचालक लक्की रामानी का कहना है कि लोग इस शुभ मुहूर्त का वर्षभर इंतजार करते हैं और ज्यादा से ज्यादा लोग इसका लाभ उठाना चाहते हैं। श्री रामानी का अनुमान है कि जिले में इस बार 4 से 5 करोड़ का कारोबार होने की उम्मीद है।

    बढ़ जाती है ज्वेलरी की मांग

    पुराना बस स्टैंड में संचालित वर्धमान ज्वेलर्स के संचालक धर्मेंद्र जैन ने बताया कि त्यौहारी सीजन व खासकर दीपावली के पर्व की शुरूआत कर रहे पुष्य नक्षत्र पर बेहतर से बेहतर कारोबार की उम्मीद हर व्यावसायी को होती है। सोने-चांदी की मांग भी बढ़ जाती है।

    मांग के अनुरूप हर वरायटी के वस्त्र

    हीरानंद कॉम्प्लेक्स में संचालित श्रीराम वस्त्रालय वस्त्रालय के संचालक रमन अग्रवाल ने बताया कि ग्राहकों की पसंद को ध्यान में रखते हुए सभी वरायटी के कपड़ों का भरपूर स्टॉक रखा गया है। इस बार पुष्य नक्षत्र पर महासंयोग है, खरीदारी के लिए लोग बड़ी संख्या में मुहूर्त का लाभ उठाएंगे।

    मुहूर्त पर एक नजर

    0 सुबह 9 से 10.30 बजे तक लाभ का योग

    0 सुबह 10.30 से दोपहर 12 बजे तक अमृत योग

    0 सुबह दोपहर 1.30 से दोपहर 3 बजे तक शुभ

    0 शाम 6 बजे से 7.30 तक शुभ योग

    0 शाम 7.30 से रात्रि 9 बजे के बीच पुनः अमृत योग रहेगा

    और जानें :  # PISHYA NAKSHATRA
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें