Naidunia
    Tuesday, September 19, 2017
    PreviousNext

    अभी नहीं हुई डसने वाले सांप की सजा पूरी

    Published: Sat, 09 Jul 2016 11:09 PM (IST) | Updated: Sun, 10 Jul 2016 04:30 PM (IST)
    By: Editorial Team
    snake  final 2016710 121055 09 07 2016

    कोरबा/तुमान। नईदुनिया न्यूज। लहरीराम को डसने की गुस्ताखी करने वाले जहरीले सांप को अब तक माफी नहीं मिली है। जी हां सर्पदंश की घटना को एक दिन बीत गए, लेकिन लहरीराम ने उस सांप को अब तक नहीं छोड़ा है। पहले तो रस्सी से बांधकर रखा था, लेकिन अब उसे हंडे में कैद कर दिया है। सांप को बंधक बनाकर रखने के पीछे उसकी क्या मंशा है, ये किसी को समझ नहीं आ रहा है।

    सांप ने डसा तो पकड़कर घर लाया और उसके लिए सजा तय कर दी...

    खोडरी गांव में रहने वाले लहरीराम को डसना सांप को इतना महंगा पड़ेगा ये किसी ने नहीं सोचा था। घटना शुक्रवार की दोपहर के वक्त की है। खेत में काम करते वक्त जहरीले सांप ने उसे डस लिया था, लेकिन सांप की यह हिमाकत लहरीराम को इतनी नागवार गुजरी कि उसे पकड़कर घर ले आया और बरामदे के खूंटे में बांध कर रख दिया। इस मसले को 24 घंटे से भी अधिक हो गए मगर उसने सांप को आजाद नहीं किया, बल्कि उसकी सजा और बढ़ा दी गई है। पहले तो सांप को खूंटे में बांधकर रखा गया था, लेकिन अब उसे एक हंडे में कैद कर लिया है।

    ऐसी और ख़बरों के लिए डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप https://goo.gl/Wq0mdo

    सांप को इस तरह कैद करने की वजह जानने के लिए नईदुनिया के स्थानीय प्रतिनिधि उसके घर पहुंचे तो उसने चौंकाने वाला तर्क दिया। लहरीराम ने कहा कि वह सांप को तब तक बंधक बनाकर रखेगा, जब तक वह पूरी तरह स्वस्थ्य नहीं हो जाता। उसने बताया कि अगर उसने सांप को छोड़ दिया तो उसके पूरे शरीर में जहर फैल जाएगा और उसकी मौत हो जाएगी। अपनी जान बचाने के लिए लहरीराम ने सांप को कैद कर रखा है।

    खास बात यह है कि सर्पदंश के बाद उपचार के लिए अस्पताल ले जाने 108 संजीवनी एक्सप्रेस घर पहुंची तो जड़ी-बूटी से ठीक हो जाने का दावा करते हुए लहरीराम ने एंबुलेंस लौटा दिया था। आखिर कितने दिन बाद सांप को आजादी मिलती है यह देखना दिलचस्प होगा।

    काटते ही हो जाती है मौत पर लहरीराम जिंदा

    मेडिकल साइंस के लिए भी लहरीराम चुनौती है। डॉक्टरों के मुताबित सर्पदंश्ा के लिए एंटी स्नैक वेनम ही कारगर होता है, लेकिन लहरीराम अब तक जड़ी-बूटी खाकर जिंदा है। वहीं हैरानी वाली बात ये है जिस सांप ने उसे काटा है, वह गहुंआ है। बेहद ही जहरीला यह सांप ब्लैक कोबरा की प्रजाति का होता है। इसके काटने के कुछ देर बाद ही इंसान की मौत हो जाती है। बहरहाल मसला जो भी हो, लहरीराम अपने इस हैरतंगेज कारनामे की वजह से पूरे जिले में चर्चित हो गया है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें