Naidunia
    Thursday, December 14, 2017
    PreviousNext

    चाय नहीं बनाई तो दोस्त को मार डाला था, अब कोर्ट ने दी ऐसी सजा

    Published: Sat, 20 May 2017 07:34 AM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 05:09 PM (IST)
    By: Editorial Team
    tea murder 2017520 112249 20 05 2017

    रायपुर। सोफा कंपनी में सहकर्मी के साथ चाय बनाने को लेकर विवाद होने पर हुई हत्या के मामले में अदालत ने अभियुक्त को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। अभियोजन के अनुसार अभियुक्त 22 वर्षीय मो.शमशाद अंसारी, सुड्डू पंडित, जावेद अंसारी और मो.अली अकबर आदि सबा हसन की मोवा स्थित सोफा बनाने की कंपनी में काम करते थे।

    चूंकि वे सभी साथ-साथ रहते थे, इसलिए वे लोग बारी-बारी से चाय और भोजन बनाते थे। 2 सितंबर, 2016 को मो.अली अकबर और मो.जावेद अंसारी के बीच चाय बनाने को लेकर बहस हुई। उनके दोस्तों ने विवाद शांत कराया। 7 सितंबर, 2016 को शमशाद ने अपने मालिक से गांव जाने के नाम पर अपना हिसाब कर लिया।

    इसके बाद दोपहर तक मो.अली अकबर का इंतजार किया। दोपहर 2 बजे मो.अली अकबर कमरे में आया तो शमशाद ने पीछे से उसके सिर पर लकड़ी से वार किया। चोट घातक थी, जिससे अली अकबर की मौके पर ही मौत हो गई। अकबर फरार हो गया, जिसे बाद में पुलिस ने पकड़ा।

    प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश राकेश कुमार वर्मा ने अभियुक्त शमशाद अंसारी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। मामले की पैरवी लोक अभियोजक जगदीश कुमार अग्रवाल ने की।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें