Naidunia
    Sunday, November 19, 2017
    PreviousNext

    झुंड से बिछड़े दो हाथी, ग्रामीणों में दहशत

    Published: Sat, 14 Jan 2017 06:30 PM (IST) | Updated: Sat, 14 Jan 2017 06:30 PM (IST)
    By: Editorial Team

    -ग्रामीणों को दौड़ा रहे हाथी

    फोटो 14 एमएसएमडी 11

    फोटो कैप्शन-फाइल फोटो।

    पिथौरा। निप्र

    बार अभयारण्य से लगे लवन वन परिक्षेत्र में अपने झुंड से बिछड़े दो हाथी अब आम राहगीरों के लिए खतरनाक हो गए हैं। जंगल में ग्रामीणों को देखते ही यह हाथी इन्हें दौड़ाने लगे हैं।

    मिली जानकारी के अनुसार लवन वन परिक्षेत्र के कक्ष क्रमांक 85, 88, 123, 133 के आसपास ग्राम पिपरछेड़ी, मुढ़ीपार के आसपास विगत दिनों एक बाइक सवार बाल-बाल बच गया। बताया गया है कि मुढ़ीपार के 2 युवक अपनी दुपहिया से बरबसपुर से वापस अपने घर जा रहे थे। इस बीच ग्राम मुढ़ीपार के पास जंगल में 2 हाथी दिखाई दिया। इन हाथियों को देखकर दुपहिया सवार अपनी वाहन वापस मोड़ रहे थे। तभी दोनों हाथी दुपहिया के पीछे दौड़ने लगे, करीब 100 मीटर तक पीछा कर वापस लौट गए। इस घटना की जानकारी क्षेत्र में होते ही ग्रामीण दहशत में आ गए हैं। अब रात में आवश्यक काम होने के बाद भी घर से नहीं निकल रहे हैं। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि क्षेत्र में काफी लंबे समय से 12 से अधिक हाथी जंगल में डेरा डाले हैं। इसके बावजूद कभी भी जन-धन की हानि की खबर नहीं आई है। इनमें से 2 हाथी बिछड़ गए हैं, जिसके कारण वे इस तरह की हरकत कर रहे हैं। वर्तमान में हाथी अभयारण्य के पश्चिम दिशा के ग्राम बरबसपुर, मुढ़ीपार, सुखदा, भंडोरा, अर्जुनी, खैरा एवं घिरघोल के आसपास ही मंडरा रहे हैं। झुंड से बिछड़े दोनों हाथी दिन भर दिखाई नहीं देते। शायद दिन में इनका ठिकाना घने जंगल के बीच है। सूर्यास्त के बाद ये बिछड़े हाथी जंगल से बाहर आते हैं और आसपास के ग्रामों से लगे खेतों में पड़े धान और सब्जी से अपनी भूख मिटा कर तालाब और बलार बांध तक जाकर अपनी प्यास बुझाने पानी पी रहे हैं।

    --

    और जानें :  # mahasamund news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें