Naidunia
    Friday, November 24, 2017
    PreviousNext

    निर्माणाधीन पंचायत भवन से 190 कट्टा धान जब्त

    Published: Wed, 15 Nov 2017 07:54 PM (IST) | Updated: Wed, 15 Nov 2017 07:54 PM (IST)
    By: Editorial Team

    00 राजस्व अमले ने मुखबिर की सूचना पर मारा छापा ।

    फोटो 15 एमएसएमडी 30, 31

    फोटो कैप्शन-पंचायत भवन में रखा गया धान ।

    पिथौरा । नईदुनिया न्यूज

    सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर धान खरीदी के प्रथम दिन 15 नवंबर को ही स्थानीय राजस्व अमले ने ओडिशा सीमा से लगे ग्राम सिंगारपुर के निर्माणाधीन पंचायत भवन में रखे 190 कट्टा धान को जब्त किया है।

    सूचना पर स्थानीय राजस्व अमले ने ओडिशा सीमा से लगे ग्राम सिंगारपुर के निर्माणाधीन ग्राम पंचायत भवन में प्रातः करीब 8 बजे दबिश देकर संदिग्ध परिस्थिति में रखे 190 कट्टा धान की बरामदगी करते हुए जब्ती की कार्रवाई गई। इस संबंध में ग्राम पंचायत के सरपंच पति कबित लाल बरिहा ने राजस्व अमले की पूछताछ में बताया कि उक्त धान उसके खेत की फसल है। कटाई के बाद घर में जगह नहीं होने के कारण पंचायत भवन में विगत 25 दिनों से रखा बताया। जिसे वह समर्थन मूल्य पर खरीदी प्रारम्भ होने पर बेचना चाह रहा था। वहीं राजस्व अमले एवं मंडी कर्मचारियों तथा खाद्य विभाग के जांच में पूरा मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। जब्त धान मिश्रित प्रजाति के हैं। बोरियों में ओडिशा अंकित है। वहीं पंचायत भवन के सामने किसी चारपहिया वाहन से लाकर यहां खाली किया जाना प्रतीत हो रहा है। राजस्व एवं मंडी कर्मचारियों द्वारा ग्रामवासियों से किए गए पूछताछ में यह बात भी सामने आया कि अभी तक किसी किसान के धान की कटाई के बाद मिंजाई प्रारम्भ नहीं हो पाया है।

    00 तीन किलोमीटर दूर है ओडिशा ।

    ग्राम सिंगारपुर से महज तीन किलोमीटर दूर ओडिशा का सीमा लगा है। हमेशा से इस क्षेत्र से धान परिवहन होने की शिकायतें आते रहती है ।इस कारण यह आशंका है कि उक्त धान को समर्थन मूल्य पर खपाने की नीयत से लाया गया होगा।

    00 ओडिशा मार्का का बारदाना ।

    जब्त धान के अनेक बोरियों में ओडिशा स्टेट सिविल सप्लाई कार्पोरेशन लिखा हुआ है। जिससे पूरा मामला संदेहास्पद प्रतीत हो रहा है। घटनास्थल पर मौजूद चारपहिया वाहन के चक्के के निशान एवं घटनास्थल पर गिरे हुए धान से एक-दो दिनों के भीतर में ही परिवहन कर लाया जाना प्रतीत हो रहा है। वहीं कृषक कबित लाल बरिहा ने दो किस्म के धान की कटाई करना बताया। जबकि बोरियों में 4 किस्म का धान पाया गया है। बहरहाल, राजस्व अमले ने धान की जब्ती करते हुए मामला मंडी प्रशासन को सौंप दिया है। धान को परिवहन कर सांकरा मंडी लाने की कार्रवाई की जा रही है। इस कार्रवाई में एसडीएम बीएस एक्का, तहसीलदार बीएस नेताम, मंडी सचिव श्रीनिवास मंगम, फुड इंस्पेक्टर साहू, मंडी निरीक्षक नरेंद्र साहू, सुधीर श्रीवास्तव उपस्थित थे।

    --

    25

    और जानें :  # mahasmund news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें