Naidunia
    Friday, November 24, 2017
    PreviousNext

    बहुविकलांग केंद्र के लिए ब्लाकों में विशेष जागरुकता शिविर

    Published: Wed, 15 Nov 2017 08:54 PM (IST) | Updated: Wed, 15 Nov 2017 08:54 PM (IST)
    By: Editorial Team

    0शिविर लगाकर बच्चों का चिन्हांकन करने के निर्देश

    फोटो 15 एमएसएमडी 36

    फोटो कैप्शन-बच्चों को बिस्किट बांटते हुए कलेक्टर गुप्ता ।

    महासमुंद । नईदुनिया न्यूज

    कलेक्टर हिमशिखर गुप्ता ने 15 नवंबर को जिला मुख्यालय स्थित विभिन्न शासकीय कार्यालयों एवं निर्माण कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने शासकीय बहुविकलांग विशेष विद्यालय गुड़रुपारा, शासकीय प्राथमिक शाला गुड़रुपारा, दिव्यांग रैन बसेरा, समर्थ आजीविका प्रशिक्षण सह भौतिक पुर्नवास केंद्र, खैरा में निर्माणाधीन बहु विकलांग विशेष विद्यालय का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित बहुविकलांग विशेष विद्यालय गुड़रुपारा में पहुंचकर वहां रह रहे बच्चों से मुलाकात की। उन्होंने वहां बच्चों की दिए जाने वाली सुविधाओं, सुरक्षा, पढ़ाई -लिखाई तथा उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को बहुविकलांग केंद्र में बच्चों की संख्या बढ़ाने के लिए सभी ब्लाकों में विशेष जागरूकता शिविर लगाकर बच्चों का चिन्हांकन करने के निर्देश दिए। उन्होंने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग के कार्यपालन अभियंता को खैरा में निर्माणाधीन बहुविकलांग विशेष विद्यालय को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए ताकि बच्चों को वहां शिफ्ट किया जा सके। उन्होंने समर्थ आजीविका प्रशिक्षण सह भौतिक पुर्नवास केंद्र का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने वहां संचालित फिजियोथैरेपी के माध्यम से बच्चों का समुचित उपचार करने के निर्देश। वहां संचालित कम्प्यूटर प्रशिक्षण, सिलाई प्रशिक्षण, ब्रेल लिपी प्रशिक्षण एवं अन्य रोजगार मूलक प्रशिक्षण में अधिक से अधिक प्रशिक्षण देने को कहा। समाज कल्याण विभाग के उप संचालक ने बताया कि नेत्रहिनों को कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिलाने के लिए कम्प्यूटर में अलग से साफ्टवेयर अपलोड की गई है। इसे शीघ्र प्रारंभ किया जाएगा। गुप्ता ने जिले में अस्थि बाधित, दृष्टि बाधित एवं श्रवण बाधित, मूक बधिर बच्चों का चिन्हांकन कर उन्हें कौशल प्रशिक्षण दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने दिव्यांग रैन बसेरा का भी अवलोकन किया और यहां सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने यहां दिव्यांगजनों को विभिन्न रोजगार मूलक व्यवसायों में प्रशिक्षण दिलाने को कहा। उन्होंने यहां साफ-सफाई, विद्युत, पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए। खैरा में निर्माणाधीन समर्थ आजीविका सह भौतिक पुर्नवास केंद्र भी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग के कार्यपालन अभियंता को बाउंड्रीवाल, कांक्रीटीकरण, नाली निर्माण कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर एसडीएम प्रेमप्रकाश शर्मा, समाज कल्याण विभाग के उप संचालक एम.एम. नाग, संजय पाण्डेय, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग के कार्यपालन अभियंता भोलाप्रसाद चंद्राकर सहित

    35

    और जानें :  # mahasmund news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें