Naidunia
    Saturday, February 25, 2017
    PreviousNext

    शराबबंदी पर मंत्री भी जनता के साथ आए

    Published: Fri, 17 Feb 2017 03:59 AM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 09:26 AM (IST)
    By: Editorial Team
    wine shop protest rr 2017217 92551 17 02 2017

    रायपुर, ब्यूरो। शराब दुकानों के खिलाफ 'नईदुनिया' के महाअभियान का ही असर है कि अब सत्तापक्ष के नेताओं के सुर बदलने लगे हैं। शराबबंदी पर अब प्रदेश के दो कद्दावर मंत्रियों ने सरकार का साथ छोड़ जनता के समर्थन में खड़े होने का फैसला लिया है। विरोध को प्रायोजित बताने वाले खेल एवं युवा कल्याण मंत्री भइयालाल राजवाड़े ने यू-टर्न ले लिया है।

    अब वे सफाईनुमा लहजे में कह रहे हैं कि बस्ती में शराब दुकान खुल रही है तो उसका विरोध सही है। इसी तरह पीडब्ल्यूडी मंत्री राजेश मूणत ने एलान किया है कि भले ही सरकार ने फैसला ले लिया है, लेकिन वे रायपुर पश्चिम के अपने विधानसभा क्षेत्र की हीरापुर बस्ती में शराब दुकान नहीं खोलने देंगे। इधर राजधानी में महर्षि वाल्मीकि वार्ड की भाजपा पार्षद शारदा पटेल ने विरोध का बिगुल फूंकते हुए कलेक्टोरेट तक रैली निकाली। कांग्रेसी महापौर समर्थकों संग उनकी हौसलाअफजाई करने साथ रहे।

    15 दिन से हीरापुर बस्ती और गोगांव बस्ती में हाइवे की शराब दुकानें शिफ्ट करने का विरोध चल रहा है। प्रदर्शन में पार्षद और कांग्रेस के नेता शामिल हैं। पार्षद कांग्रेस के हैं, इसलिए विरोध का असर भाजपा के क्षेत्रीय विधायक व मंत्री मूणत पर नहीं पड़ा था। ऐसे ही फुण्डहर, कुशालपुर में भी कांग्रेस के बैनर तले विरोध जारी है। फुण्डहर में स्थानीय निर्दलीय पार्षद विरोध कर रहे हैं। कैबिनेट बैठक के दूसरे दिन ही मूणत ने दो टूक कहा कि सरकार का निर्णय स्पष्ट है। मैं अपने क्षेत्र की बात करूं तो कोई विरोध नहीं चल रहा है। विरोध है तो दूर कर दिया जाएगा।

    हीरापुर बस्ती में शराब भट्ठी या दुकान नहीं खुलेगी। (गोगांव बस्ती के बारे में पूछा गया तो....उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया।) राजवाड़े ने कहा है कि बस्ती में या उसके आसपास शराब दुकानें खोली जा रहीं है तो जनता का विरोध जायज है।

    हाइवे की शराब दुकानों को आबादी से बाहर किसी कोने में खोला जाना चाहिए, जिसे पीना होगा, वहां तक जाएगा। राजवाड़े ने कहा कि अधिकारियों को पहले ही निर्देश दिया गया है। अगर वे निर्देश का पालन नहीं कर रहे तो मुख्यमंत्री तक बात पहुंचाई जाएगी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी