Naidunia
    Friday, October 20, 2017
    PreviousNext

    नहीं थम रही दुर्घटना, पिᆬर डंपर में लगी आग

    Published: Mon, 14 Aug 2017 04:03 AM (IST) | Updated: Mon, 14 Aug 2017 04:03 AM (IST)
    By: Editorial Team

    कोरबा। नईदुनिया प्रतिनिधि

    एसईसीएल की गेवरा परियोजना में एक बार पिᆬर कोयला परिवहन में लगे डंपर में अचानक आग लग गई। इस बार भी ऑपरेटर ने किसी तरह कूदकर अपनी जान बचाई। हैरत की बात है कि दो माह में यह चौथी घटना है, जबकि अब तक डंपर में आग लगने की अब तक 6 घटना हो चुकी है। बार-बार हो रही आगजनी की घटना को लेकर ऑपरेटरों में आक्रोश व्याप्त हो गया है। मेंटेनेंस कार्य उचित ढंग से नहीं किए जाने की वजह से घटनाओं में इजाफा हो रहा है।

    एसईसीएल की सबसे बड़ी खदान गेवरा में बीईएमएल कंपनी की 100 टन क्षमता का डंपर कोयला निकासी कार्य में लगा हुआ है। रविवार को प्रथम पाली में सुबह 11.30 बजे आपरेटर बृजराज डंपर क्रमांक 1045 में कोयला लोड कर अनलोडिंग करने जा रहा था, तभी अचानक डंपर में आग लग गई। ऑपरेटर बृजराज को जब तक जानकारी होती, तब तक आग तेज हो चुकी थी। आग से बचने के लिए ऑपरेटर ने कूद कर अपनी जान बचाई। घटना की जानकारी आला अधिकारियों को दी गई, तब उन्होंने पानी छिड़काव कर आग पर काबू पाया। बीईएमएल की डंपर में बार-बार आगजनी से ऑपरेटरों में नाराजगी बढ़ते जा रही है। मेंटेनेंस के अभाव में घटनाएं लगातार बढ़ रही है। मामले में प्रबंधन ने विभागीय जांच के आदेश दिए हैं। आश्चर्य की बात है कि गेवरा खदान में शून्य दुर्घटना का लक्ष्य लेकर कार्य किया जा रहा है, पर लगातार हो रही घटनाओं से सुरक्षा व्यवस्था पर भी सवालिया निशान खड़ा हो गया है। प्रबंधन मामले को गंभीरता से नहीं लेते हुए टालमटोल की नीति पर कार्य कर रहा है।

    कब कैसे हुई घटना

    गेवरा खदान में 100 टन क्षमता डंपर में छठवीं बार घटना हुई है। इसके पहले जुलाई माह में दो घटना हुई, जबकि अगस्त माह में अब तक दो घटना हो चुकी है। हालांकि आगजनी की घटना की दूसरी बार हुई है। इसके पहले चढ़ाई में लुढ़कने, टायर फटने समेत अन्य प्रकार से घटना हो चुकी। ऑपरेटरों का कहना है कि जान जोखिम में डाल कर काम करना पड़ रहा है। डंपर में खराबी होने पर पूरी जानकारी इंचार्ज को प्रदान की जाती है, पर बेहतर ढंग से मेंटेनेंस कराने की बजाय टालमटोल की नीति अख्तियार की जाती है।

    और जानें :  # nahi tham rahi durghatna
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें