Naidunia
    Thursday, October 19, 2017
    PreviousNext

    प्रोपᆬेसर के बचाव में उतरे एबीवीपी के छात्र

    Published: Mon, 14 Aug 2017 04:02 AM (IST) | Updated: Mon, 14 Aug 2017 04:02 AM (IST)
    By: Editorial Team

    कोरबा। नईदुनिया न्यूज

    अभाविप के छात्रों ने आरोप लगाया है कि कुछ सीनियर छात्रों ने केएन कॉलेज परिसर में अपनी नेतागिरी चमकाने के लिए नवप्रवेशी छात्र-छात्राओं के बीच भ्रामक प्रचार कर उन्हें भड़काया जा रहा है।

    कमला नेहरू महाविद्यालय में सहायक प्रोपᆬेसर हिंदी टीवी नरसिम्हम ने एक छात्रा को पहनावा के संबंध में अनुशासन हित में समझाइश दी थी। छात्र-छात्राओं को अनुशासन के दायरे में रहने तथा शालीन वेशभूषा में महाविद्यालय में आने हेतु निर्देशित किया गया था। इस वाक्य को सीनियर छात्रों ने राजनीति का हथियार बना लिया है। इसी मुद्दे को लेकर सीनियर छात्र नवप्रवेशी छात्राओं को लेकर धरना प्रदर्शन करने लगे एवं हिंदी प्रोफेसर एवं प्राचार्य केजे कौर से इस्तीफे की मांग करने लगे। इस तरह राजनीति की आड़ में महाविद्यालय की गरिमा को धूमिल किया जा रहा है। प्रो. नरसिम्हम अपने सभी छात्रों को अपने बेटे-बेटियों के रूप में समझाइश दिए थे, जिसे सीनियर छात्रों ने गलत दिशा में ले जाकर एक राजनीतिक रूप दे दिया है। प्राचार्य केजे कौर के नेतृत्व में कॉलेज सुचारू एवं स्वच्छ रूप से संचालित हो रहा है। सभी कक्षाएं नियमित रूप से चल रही है। विद्यालय के हित में प्राचार्य व प्रोफेसर कहीं गलत नहीं है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सूरज तांडेकर, आशीष तिवारी, प्रमोद जांगड़े, सागर टेवानी, अनुराग शर्मा, सुरेंद्र ठाकुर, पायल मखवाना, सोनाली कर्ण, शालू पैकरा, मनीष, अश्विन, वरूण, सानु, प्रिंस, अंकित, ओम, नीरज, परमेश्वर, दिनेश तांबे, दीपक, विक्रम सहित समस्त एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने महाविद्यालय के पक्ष में अपना समर्थन दिया है।

    ----------------------

    और जानें :  # professor k bachav
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें