Naidunia
    Thursday, June 22, 2017
    PreviousNext

    एंटी करप्शन ब्यूरो की कार्रवाई के बाद बघेल ने उठाए सवाल

    Published: Fri, 17 Feb 2017 08:35 PM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 08:38 PM (IST)
    By: Editorial Team
    bhupesgbaghel 17 02 2017

    रायपुर। छत्तीसगढ़ में एंटी करप्शन ब्यूरो की कार्रवाई के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने एक बार फिर सवाल खड़ा किया है। कांग्रेस भवन में शुक्रवार को पत्रकारों से चर्चा में उन्होंने कहा कि एसीबी के छापे दिखावे के लिए हैं। ये छापे छोटी मछलियों के यहां पड़े हैं। बड़ी मछलियां, जो मंत्रालय में बैठती हैं, यदि उनके यहां ईमानदारी से छापे मारे जाएं तो धन की खुदाई के लिए जेसीबी बुलानी पड़ेगी। रुपया ढोने के लिए ट्रक लाना पड़ेगा और सोना-चांदी तौलने के लिए धरमकांटा ले जाना पड़ेगा। बघेल ने सवाल किया कि एसीबी मंत्रियों, आईएएस-आईपीएस अधिकारियों के यहां छापे क्यों नहीं मारती?


    उन्होंने कहा कि एडीजी मुकेश गुप्ता खुद को दमदार अधिकारी बताते हैं। उनमें साहस है तो अपनी जमात के भ्रष्ट अधिकारियों के यहां छापा मारने का साहस दिखाए। भूपेश बघेल ने कहा कि सुना है, जिन 9 अफसरों के ठिकाने पर छापेमारी हुई, उनके घर सोना तौलने के लिए मशीन भेजनी पड़ी। भूपेश ने कहा कि मंत्रियों की संपत्ति की जांच होनी चाहिए।

    यह पूछे जाने पर कि क्या विधानसभा में वे विधायकों की संपत्ति सार्वजनिक करने की मांग करेंगे? उन्होंने कहा कि वे तैयार हैं, सरकार चाहे तो सभी विधायकों की संपत्ति की जांच एक कमेटी बनाकर करा ले। बघेल ने कहा कि उन्होंने पहले भी कहा है, जिस तरह भाजपा सरकार ने उनके बाप-दादा की जमीन की जांच कराई, वह उनके बाप-दादा की तो नहीं, लेकिन सरकार में बैठे मंत्रियों की जमीन और संपत्ति जरूर नपवाएंगे।

    सरकारी कर्मचारी हूं, नेताओं के बयान पर क्या प्रतिक्रिया दूं: गुप्ता

    एडीजी एसीबी मुकेश गुप्ता ने नईदुनिया से चर्चा में कहा-भूपेश बघेल राजनेता हैं। मैं एक शासकीय कर्मचारी हूं, राजनेताओं के बयान पर मैं क्या प्रतिक्रिया दूं? गुप्ता ने कहा कि एसीबी के छापे सूचना और शिकायतों के आधार पर मारे जाते हैं। एसीबी किस अधिकारी के ठिकाने पर छापा मारेगी, यह शिकायतों के आधार पर तय होगा है।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी