Naidunia
    Monday, November 20, 2017
    PreviousNext

    जमानत पर छूटकर फिर की धोखाधड़ी, स्थायी वारंट पर दंपती दोबारा जेल दाखिल

    Published: Tue, 11 Jul 2017 08:04 AM (IST) | Updated: Tue, 11 Jul 2017 08:04 AM (IST)
    By: Editorial Team

    00 सिविल लाइन थाने से जुड़ा मामला

    00 चिटफंड कारोबार में की थी 30 लाख रुपए की ठगी

    रायपुर। नईदुनिया न्यूज

    चिटफंड कारोबार में एक शख्स से 30 लाख रुपए की ठगी करने वाले दंपती को जेल से जमानत पर रिहा होने के बाद पुलिस ने दोबारा जेल भेज दिया है। कोर्ट से स्थायी वारंट जारी होने के बाद अतिरिक्त धोखाधड़ी के केस में दंपती को बंदी बनाया। पुलिस ने बताया कि 70 वर्षीय रंजन दयाल निवासी तेलीबांधा से ठगी हुई थी। इसी मामले में आरोपी दंपती चंद्रशेखर राव और पत्नी वर्षा शेखर को नागपुर से गिरफ्तार किया।

    सोमवार को सिविल लाइन टीआई हेमप्रकाश नायक ने इसकी जानकारी दी। टीआई ने बताया कि दंपती पूर्व में रंजन दयाल से माय वीडियो टॉक कंपनी में बड़ी रकम 30 लाख रुपए निवेश करने झांसा दिया था। दुगुनी रकम मिलने की स्कीम बताकर रकम ठग लिए। मेच्योरिटी पूरी होने के बाद पैसे वापस नहीं किए। इसी केस में पीड़ित दयाल ने रिपोर्ट दर्ज कराई। चिटफंड कारोबार में पुलिस ने धोखाधड़ी का केस बनाते हुए दंपती के साथ एक और सहयोगी यशवंत देशपांडे को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जमानत अर्जी दाखिल कर दंपती जेल से रिहा हुए। इसके बाद कोर्ट के समक्ष झूठी जानकारी देते हुए प्रार्थी पक्ष को ईमेल के जरिए सारी रकम निवेश और भुगतान संबंधी जानकारी उपलब्ध कराने शपथ पत्र दिया। इसके बाद से दंपती कभी भी पेशी के दौरान हाजिर नहीं हुए। कोर्ट के आदेशानुसार ईमेल में शपथ पत्र दिए जाने की साइबर जांच कराई तब दोबारा फर्जीवाड़ा करने का खुलासा हुआ। प्रार्थी पक्ष द्वारा किसी तरह का ईमेल मिलने से इंकार करने पर दंपती दोबारा फर्जीवाड़ा करते पकड़ा गया। फर्जी ईमेल बनाकर भुगतान संबंधी झूठा शपथ पत्र देने का खुलासा हुआ। इस पर से अलग मामला पंजीबद्ध कर पुलिस ने कार्रवाई की। प्रकरण में सहयोगी यशवंत देशपांडे को पकड़ा, जबकि दंपती फरार हो गया। फरार रहने के दौरान पंचनामा-चालानी कार्रवाई हुई। कोर्ट ने दंपती के खिलाफ स्थायी वारंट जारी किया। इसी पर से पुलिस दंपती को नागपुर से गिरफ्तार कर रायपुर ले आई।

    10 मनीष 02, 7.17 बजे

    खबर पढ़ी है

    सं. आरकेडी

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें