Naidunia
    Saturday, September 23, 2017
    PreviousNext

    हस्त नक्षत्र से शुरू हो रही नवरात्र, ऐसा बन रहा विशेष संयोग

    Published: Sat, 09 Sep 2017 08:15 AM (IST) | Updated: Sat, 09 Sep 2017 10:18 AM (IST)
    By: Editorial Team
    navaratri 201799 101750 09 09 2017

    रायपुर। 21 सितंबर को हस्त नक्षत्र से शुरू होने वाली नवरात्रि में घट स्थापना करना विशेष फलदायी होगा। सुबह से दोपहर तक अभिजीत मुहूर्त में विधिवत घट स्थापना से घर में सुख, समृद्धि का वास और शारीरिक चिंता, परेशानी से मुक्ति मिलेगी। नौ दिनों की नवरात्रि में प्रतिदिन एक ही तिथि पड़ेगी।

    किसी भी दिन दो तिथियां एक साथ नहीं पड़ रही है, इसलिए इसे खास संयोग माना जा रहा है। 21 सितंबर को घट स्थापना और 29 सितंबर को नवमी पर जोत व प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाएगा। मंदिरों में जोत प्रज्ज्वलन के लिए पंजीयन का कार्य जोरशोर से शुरू हो चुका है।

    सूर्योदय से प्रतिपिदा तिथि

    पं मनोज शुक्ला के अनुसार 21 सितंबर को प्रतिपदा तिथि सूर्योदय से ही शुरू होगी। सूर्योदय के साथ ही घट स्थापना का मुहूर्त शुरू हो जाएगा, जो अभिजीत मुहूर्त दोपहर 11.36 से 12.24 बजे तक किया जा सकता है। इस दिन हस्त नक्षत्र के साथ सूर्य और चंद्रमा कन्या राशि में विद्यमान होंगे।

    नौ दिन नौ भोग

    0 नवरात्रि के पहले दिन मां के चरणों में गाय का शुद्ध घी अर्पित करें। इससे शरीर निरोगी रहता है।

    0 दूसरे दिन मां को शक्कर का भोग लगाएं। इससे आयु बढ़ती है।

    0 तीसरे दिन दूध या दूध से बनी मिठाई, खीर का भोग लगाएं। इससे दुखों से मुक्ति मिलती है।

    0 चौथे दिन मालपुए का भोग लगाएं। इससे बुद्धि का विकास होने के साथ-साथ निर्णय शक्ति बढ़ती है।

    0 पांचवें दिन मां को केले का भोग चढ़ाएं। इससे शरीर स्वस्थ रहता है।

    0 छठे दिन मां को शहद का भोग लगाएं, जिससे लोग आप की तरफ आकर्षित होंगे।

    0 सातवें दिन मां को गुड़ का भोग चढ़ाएं। इससे आकस्मिक संकटों से रक्षा होती है।

    0 आठवें दिन मां को नारियल का भोग लगाएं। इससे संतान संबंधी परेशानियों से छुटकारा मिलता है।

    0 नवें दिन मां को तिल का भोग लगाएं। इससे मृत्यु भय से राहत मिलेगी।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें