Naidunia
    Tuesday, July 25, 2017
    PreviousNext

    हल होगी पानी की समस्या

    Published: Sat, 18 Feb 2017 12:31 AM (IST) | Updated: Sat, 18 Feb 2017 12:31 AM (IST)
    By: Editorial Team

    राजनांदगांव। ब्यूरो

    खैरागढ़ और छुईखदान ब्लाक के अंदरूनी गांवों में गुरुवार को कलेक्टर मुकेश बंसल और एसपी प्रशांत अग्रवाल ने दौरा किया। इस दौरान ग्रामीणों ने बताया कि भावे और कौआबहरा में पीने के पानी की समस्या है। कलेक्टर ने दोनों स्थानों पर सर्वे कराकर तत्काल हैण्डपंप खनन के लिए एसडीएम को निर्देशित किया कि वे पीएचई के अधिकारियों को निर्देशित करें। ग्रामीणों ने कलेक्टर को बताया कि हैंडपंप में पानी नहीं होने के कारण उन्हें गर्मी के दिनों में बेहद परेशानी होती है। इस पर उन्होंने भरोसा दिलाया कि गर्मी से पहले हैंडपंप खनन करा दिया जाएगा।

    कलेक्टर और एसपी छुईखदान विकासखंड के दुर्गम नक्सल हिंसा प्रभावित गातापार जंगल-बकरकट्टा -साल्हेवारा क्षेत्र में पहुंचे थे। उन्होनें मलैदा, भावे, लछणाझिरिया, कौआबहरा, बकरकट्टा, समुंदपानी, सिरोधी सहित साल्हेवारा क्षेत्र के ग्रामीणों से मुलाकात की और उनकी समस्याएं तथा मांगे जानी। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने क्षेत्र की निर्माणाधीन सड़कों, पुलियों, स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रों, स्वास्थ्य केन्द्रों, पंचायत भवनों तथा राशन दुकानों का भी निरीक्षण किया। जिले के दोनों अधिकारियों ने स्कूलों में बच्चों की कम उपस्थिति एवं शिक्षकों की अनुपस्थिति पर नाराजगी व्यक्त की तथा उपस्थित अनुविभागीय राजस्व अधिकारी पीएस धु्रव को इस संबंध में जरूरी निर्देश दिये।

    खंभे लगे पर लाइन नहीं आयी

    कलेक्टर व एसपी से मलैदा के ग्रामीणों ने अपनी समस्याएं और मांगे खुलकर बताई। ग्रामीण पंचू राम ने बताया कि गांव में बिजली की समस्या है, खंबे लग गये हैं पर बिजली नहीं आई है। इस पर कलेक्टर ने अनुविभागीय राजस्व अधिकारी को विद्युत विभाग के अधिकारियों से संपर्क कर जल्द से जल्द समस्या का निराकरण करने कहा। ग्रामीण राजकुमार ने महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी के तहत गांव में अधिक से अधिक काम शुरू करने की मांग की। उन्होंने बताया कि गांव का एक हैण्डपंप खराब हो गया है। जिसपर अधिकारियों ने उसे सुधरवाने कहा।

    सड़क जल्दी बनाने की मांग

    मलैदा, भावे सहित क्षेत्र के अधिकांश ग्रामीणों ने गातापार जंगल-बकरकट्टा तक बन रही विभिन्न सड़कों का काम तेजी से पूरा कराने की मांग आज पहुंचे कलेक्टर और एसपी से की। ग्रामीणों ने दोनों अधिकारियों से कहा कि सड़क का काम बहुत धीरे चल रहा है। लोगों को आने-जाने में बहुत परेशानी हो रही है, किसी के बीमार होने पर अस्पताल तक पहुंचने में भी बहुत देर हो जाती है। इस पर दोनों अधिकारियों ने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के कार्यपालन अभियंता पटेल से मौके पर ही चर्चा की। उन्होनें गातापार से बकरकट्टा सड़क निर्माण के कार्य को तेजी से पूरा कराने सभी जरूरी इंतजाम करने कहा।

    भावे में बन रहा नया भवन

    धूर नक्सल प्रभावित गांव भावे में पहुंचकर दोनों आला अफसरों ने विकास कायोर् का जायजा लिया। उन्होनें गांव में बन रहे नये पंचायत भवन की गुणवत्ता को भी देखा तथा निर्माण काम में लगे श्रमिकों से भी बात की। कलेक्टर ने सभी श्रमिकों से उनकी दैनिक मजदूरी के बारे में पूछा और उनकी समस्याएं जानी। ग्रामीणों ने अधिकारियों को बताया कि गांव में रोजगार गारंटी के तहत कार्य चल रहे है। कलेक्टर बंसल ने भावे आंगनबाड़ी केन्द्र में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका की अनुपस्थिति और आंगनबाड़ी केन्द्र बंद पाये जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त की। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका सहित क्षेत्र की सेक्टर सुपरवाईजर को भी कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होनें भावे ग्राम पंचायत के मार्ग पर दोनों तरफ बड़ी मात्रा में पड़ी गिट्टी के बारे में भी पंचायत पदाधिकारियों से पूछा और उसके बारे में पूरी जानकारी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी से लेकर प्रस्तुत करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

    और जानें :  # Cg News # Rajnandgaon News
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी