Naidunia
    Sunday, May 28, 2017
    PreviousNext

    संगठन की छवि धूमिल करने का प्रयास

    Published: Sat, 22 Apr 2017 04:01 AM (IST) | Updated: Sat, 22 Apr 2017 04:01 AM (IST)
    By: Editorial Team

    0 एसईकेएमसी की बैठक में निंदा प्रस्ताव पारित

    0 सदस्यों ने कहा- नया संगठन बना कर रहे कार्रवाई

    कोरबा। साउथ ईस्टर्न कोयला मजदूर कांग्रेस की बैठक क्षेत्रीय महामंत्री किशोर सिन्हा के क्षेत्रीय कार्यालय में आयोजित की गई। बैठक में क्षेत्रीय पदाधिकारी एवं शाखा के पदाधिकारी उपस्थित थे।

    श्री सिन्हा ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि मजदूर कांग्रेस के केंद्रीय अध्यक्ष गोपाल नारायण सिंह का प्राथमिक सदस्यता से निष्कासन प्रदेश इंटक के अध्यक्ष संजय सिंह द्वारा किए जाने की जानकारी मिली है। बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों ने अपने विचार रखे एवं इस कृत्य की कड़ी आलोचना की। साथ ही निंदा प्रस्ताव पारित किया गया। पदाधिकारियों ने प्रदेश इंटक का नेतृत्व को दुर्भाग्यजनक बताया। श्री सिन्हा ने कहा कि हम सभी साउथ ईस्टर्न कोयला मजदूर कांग्रेस के प्राथमिक सदस्य हैं। प्रति वर्ष सदस्यता पर्ची कटवाकर प्रबंधन को जमा करते हैं। इसके अलावा सदस्यता कहीं भी नहीं ली है। यूनियन एक्ट 1926 के तहत पंजीकृत है। संघ के विधान में किसी भी पदाधिकारी एवं सदस्य के निष्कासन के अधिकारों का उल्लेख है। गोपाल नारायण सिंह भी निर्वाचित अध्यक्ष हैं। उन्हें औद्योगिक न्यायालय एवं उच्च न्यायालय ने भी पारित आदेश के तहत अध्यक्ष माना है। वर्तमान में संघ की 20 हजार सदस्यता है। दरअसल संजय सिंह ने एक नई यूनियन राष्ट्रीय कोयला कामगार संघ का पंजीयन कराया है, जिसके संजय सिंह स्वयं महामंत्री एवं पीके राय कार्यवाहक अध्यक्ष है। उन्होंने यूनियन की सदस्यता पंजीयक के समक्ष 180 दर्शाई है। एसईकेएमसी एवं अध्यक्ष की छवि खराब करने एवं सदस्यों को भ्रमित करने यूनियन का गठन कर कुत्सित षड्यंत्र रचा गया है। श्री सिन्हा ने बताया कि संजय सिंह ने प्रबंधन के समक्ष सदस्यता जमा कराई थी, जिसे प्रबंधन ने अस्वीकार कर दिया है, क्योंकि इस नाम से कोई यूनियन कार्यरत नहीं है। इसी तरह पीके राय को पुलिस ने एक मामले में रंगेहाथों पकड़ा था। उन्हें कार्यकारी अध्यक्ष संजय सिंह द्वारा बनाया गया है। ऐसे व्यक्ति को इंटक के पदों से निष्कासित करने की बजाय अध्यक्ष पर अधिकारिताविहीन कार्रवाई दुर्भाग्यजनक है। प्रदेश अध्यक्ष को संघ के किसी भी पदाधिकारी एवं सदस्य को प्राथमिक सदस्यता से निष्कासन का अधिकार नहीं है। बैठक में भागवत सिंह, केके शर्मा, दिलीप सिंह, भोजराम, सतरंगे, नवीन सिंह, जितेंद्र श्रीवास, छेदीलाल, लक्ष्मण राठौर, एआर जिनस, सुनील शर्मा, सुरेश राठौर, रमेश परिहार, सुकुमार चौधरी, राजूलाल सोनी, संदीप चौधरी चैतु, विदेशी, मनोज शर्मा, अब्दुल माजिद, राकेश ंिसंह, सुनीत शुक्ला सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारी उपस्थित थे।

    और जानें :  # sangathan ki chhavi choomil
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी