Naidunia
    Monday, November 20, 2017
    PreviousNext

    टैक्स से जुड़े सवालों में जवाब ढूंढ़ने मदद करेगा आस्क

    Published: Mon, 18 Sep 2017 12:43 AM (IST) | Updated: Mon, 18 Sep 2017 12:43 AM (IST)
    By: Editorial Team
    17ko5 18 09 2017

    0 नईदुनिया एक्सक्लूसिव

    0 रायपुर व बिलासपुर के बाद कोरबा में आयकर सेवा केंद्र जल्द

    0 व्यक्तिगत व व्यवसाय संचालन में मिलेगी कर संबंधी सहायता

    कोरबा। नईदुनिया प्रतिनिधि

    व्यक्तिगत हो या व्यवसाय संचालन की बात, कर से जुड़े सवालों में उलझन से चिंतित रहने वाले करदाताओं के लिए एक अच्छी खबर है। रायपुर व बिलासपुर जैसे बड़े शहरों के बाद जल्द ही कोरबा में भी आयकर सेवा केंद्र (एएसके) या अंग्रेजी में आस्क की मदद मिल सकेगी। जहां आप टैक्स से संबंधित किसी भी सवाल का जवाब बिना किसी शुल्क या अड़चन के प्राप्त कर सकेंगे। विभाग की ओर से हर साल प्रदेश स्तर पर केंद्र खोलने जगह का चुनाव किया जाता है, जिसके तहत इस बार प्रदेश में कोरबा को चुना गया है। इस संबंध में आयकर विभाग कोरबा रेंज के संयुक्त कमिश्नर की ओर से टेंडर जारी किया गया है।

    करदाताओं को टैक्स से जुड़ी जानकारियों व परेशानियों से यथाशीघ्र राहत देने की मंशा के तहत आयकर विभाग प्रतिवर्ष अलग-अलग शहरों में सुविधा का विस्तार करते हुए नए आयकर सेवा केंद्र स्थापित करता है। इसके पीछे विभाग की यही मंशा है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंच, सेवाओं की सहज उपलब्धता व नजदीकी केंद्र की सुविधा सुनिश्चित हो। इन आयकर सेवा केंद्रों में किसी व्यक्ति को उसके व्यक्तिगत या व्यावसायिक संचालन में कर संबंधी सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। केंद्रों के माध्यम से स्थायी खाता संख्या (पैन) लेने से लेकर आयकर रिटर्न दाखिल करने और प्रक्रिया पूरी करने के साथ आयकर संबंधी अन्य मामलों में मदद ली जा सकेगी। करदाताओं के लिए बेहतर सुविधाओं का विस्तार करने की मंशा से केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने यह योजना तैयार की है। यह आयकर विभाग की प्राथमिकता में शामिल परियोजना है, जिसके तहत प्रदेश की राजधानी रायपुर व न्यायधानी बिलासपुर के बाद ऊर्जानगरी के नाम से ख्यातिलब्ध कोरबा में केंद्र की मंजूरी प्रदान की गई है।

    एक छत के नीचे करदाताओं को सब सुविधाएं

    आयकर सेवा केंद्र का दायित्व स्थानीय आयकर अधिकारी करेंगे। केंद्र में एक ही छत के नीचे करदाताओं को टैक्स से जुड़ी सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। आयकर विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार करदाताओं को गुणवत्तापूर्वण सेवाएं प्रदान की जा सके, विभाग का यही प्रयास होता है, जिसके तहत नए केंद्र की स्वीकृति कोरबा में प्रदान की गई है। जनसेवा तंत्र की गुणवत्ता में सुधार की जरूरत और व्यापकता के बारे में सचेत रहना जरूरी है, जिसके तहत निहारिका स्थित आयकर विभाग के संयुक्त कमिश्नर कार्यालय में जल्द आयकर सेवा केंद्र स्थापित किया जाएगा और इसके लिए विभाग की ओर से टेंडर जारी किया गया है।

    शिकायत-परेशानियां भी कराई जा सकेंगी दर्ज

    नई गुणवत्ता नीति के तहत उत्कृष्ट सेवाएं सुनिश्चित करने आयकर सेवा केंद्र एक मल्टीपल सुविधा केंद्र है। यह करदाताओं के लिए संपर्क का एक ऐसा केंद्र है, जहां उन्हें सेवाओं के साथ-साथ शिकायत व परेशानियां भी पंजीकृत की जा सकेंगी। यूनीक पहचानकर्ता उन्हें पावती प्रदान करेगा, ताकि उसके बाद की गई कार्रवाई की चरणबद्ध प्रक्रिया की निगरानी की जा सके। आयकर सेवा केंद्र विभाग के नए एकीकृत समस्या निवारण की तरह व्यवहार करेगा, जो मानक गुणवत्ता प्रबंधन प्रणाली की तर्ज पर कार्य करेगा। यह केंद्र विभाग की ओर से करदाताओं को सेवाओं के वितरण तंत्र में तकनीकी रूप से दक्ष व ई-गवर्नेंस एजेंडा को प्रदर्शित करेगा।

    आस्क की सेवाएं

    0 सभी करदाता आवेदन-विवरणियों के पंजीकरण के लिए एकीकृत खिड़की प्रणाली ।

    0 व्यक्तिगत रूप से विभिन्न फॉर्म या आवेदन भरे जा सकेंगे ।

    0 सिस्टम आधारित यूनिक पावती संख्या तत्काल जारी की जाएगी ।

    0 आवेदनों एवं रिटर्नों की स्थिति पर निगरानी करने यूनिक संख्या का इस्तेमाल होगा ।

    0 शिकायतों का प्रस्तुतिकरण ।

    0 पैन आवेदन एवं पैन संबंधित अन्य मामलों की स्थिति ।

    0 टैक्स रिटर्न प्रिपेयरर यानि टीआरपी की सेवाएं ।

    और जानें :  # Tax ans
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें