Naidunia
    Saturday, September 23, 2017
    PreviousNext

    डॉन बनकर फिरौती के लिए कॉल करता था चॉकलेट स्टोर का सुपरवाइजर

    Published: Wed, 13 Sep 2017 11:01 AM (IST) | Updated: Thu, 14 Sep 2017 10:12 AM (IST)
    By: Editorial Team
    salesman chocolate img new.jpeg 13 09 2017

    नई दिल्ली। हैलो मैं डॉन बोल रहा हूं…कुछ इस तरह से एक शख्स लोगों को फोन पर धमकी देकर फिरौती मांगता था। मगर उसकी चालाकी ज्यादा देर तक नहीं चल सकी और फोन पर धमकाकर फिरौती मांगने वाला ये चालबाज पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

    वसंत कुंज के एंबियंस मॉल में चॉकलेट स्टोर पर बतौर सुपरवाइजर काम कर रहे प्रणय तिवारी नाम के शख्स को पुलिस ने इसी मामले में पकड़ा है। प्रणय इतना शातिर था कि इसे दबोचने के लिए केवल दिल्ली नहीं, बल्कि मुंबई, हरियाणा और छतीसगढ़ की पुलिस को मिलकर अभियान चलाना पड़ा।

    फोन पर डॉन के नाम की धमकी देकर फिरौती वसूलने की कोशिशों में जुटे प्रणय का तरीका भी अनूठा था, वो चॉकलेट स्टोर पर आने वाले ग्राहकों के फीडबैक फॉर्म से उनकी जानकारी लेता और फिर अपने शिकार को फोन के जरिए फिरौती के लिए धमकाता था, वो भी खुद को डॉन बताकर और रकम भी दो-पांच लाख नहीं बल्कि एक से लेकर पांच करोड़ तक की डिमांड वो करता था।

    पिछले सात महीनों से इस शख्स ने फिरौती के इस धंधे से कितना पैसा उगाया है, इसकी हकीकत अबतक सामने नहीं आ सकी है।

    प्रणय फिरौती वसूलने के लिए उस फीडबैक फॉर्म का इस्तेमाल करता था, जो ग्राहक चॉकलेट स्टोर में डिस्काउंट के नाम पर भरते थे। ऐसे में लोगों की पर्सनल जानकारियां उस तक पहुंच जाती थी। इसके बाद शुरू होता था फिरौती का खेल। लोगों से फिरौती वसूलने के लिए आरोपी प्रणय जो मैसेज करता था, उसमें लोगों के जन्मदिन से लेकर शादी की सालगिरह तक की अहम जानकारियां होती थीं। ऐसे में जिन्हें ये मैसेज भेजता था, वो घबरा जाते थे।

    ऐसे ही एक बिजनेसमैन से फिरौती वसूलने के चक्कर में प्रणय दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ गया। दरअसल प्रणय ने इस बिजनेसमैन को रिजवान बनकर फोन किया औऱ उससे एक करोड़ की फिरौती मांगी। फिरौती की रकम नहीं मिलने पर उसने बिजनेसनमैन और उसके परिवार के सदस्यों को नुकसान पहुंचाने की धमकी दी।

    बिजनेसमैन ने पुलिस को इसकी शिकायत की, इसके बाद पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो मामले की परत खुलना शुरू हुई। शुरुआती जांच में पुलिस को ये पता चला कि केवल दिल्ली में ही बल्कि देश के दूसरे शहरों के व्यापारियों को भी एक नंबर से फिरौती के फोन कॉल आए। इसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए जाल बिछाया। कई जगह छापेमारी भी की गई। मगर वो हाथ नहीं आया। इसके बाद पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए तरकीब अपनाई और बिजनेसमैन के जरिए उसे पैसे लेने आने का संदेश भेजवाया।

    इसके बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने उसे पैसे लेने बुलाया और इसी चक्कर में प्रणय पकड़ा गया।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें