Naidunia
    Wednesday, March 29, 2017

    संपादकीय

    संपादकीय : वैश्विक आर्थिक चुनौतियों पर जरूरी चिंतन

    पीएम की उद्योग जगत के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक से ये जरूर हुआ कि दोनों पक्षों को एक-दूसरे की अपेक्षाएं समझने में मदद मिली। और पढ़ें »

    ज्ञान गंगा

    ज्ञान गंगा : सोच के मुताबिक बनता है कर्म

    हमें ये समझना होगा कि कर्म उसी तरह से बनता है, जिस तरह आप उसे महसूस करते हैं। और पढ़ें »

    संपादकीय : पाकिस्तान को तमाचा

    Mon, 27 Mar 2017 10:38 PM (IST)

    गिलगित-बाल्टिस्तान को प्रांत बनाने के पाकिस्तान के कदम के विरोध में ब्रिटिश संसद में प्रस्ताव पारित होना भारतीय पक्ष के हिसाब से सकारात्मक घटनाक्रम है।

    आलेख : विचारधारा से भटकने का खामियाजा - उदित राज

    Mon, 27 Mar 2017 10:40 PM (IST)

    इसमें संदेह नहीं कि सामाजिक न्याय की बुनियाद पर बनी सपा और बसपा अपने मूल सिद्धांतों से विमुख हो गई हैं।

    आलेख : कोर्ट के सुझाव पर अब तो बने बात - हृदयनारायण दीक्षित

    Fri, 24 Mar 2017 06:49 PM (IST)

    श्रीराम जन्मभूमि मंदिर राष्ट्रभाव की अभिव्यक्ति है। मंदिर पर सहमति से पूरी दुनिया भारत के सांप्रदायिक सद्भाव का स्तुतिगान करेगी।

    संपादकीय : नए तकाजों के मुताबिक

    Fri, 24 Mar 2017 06:47 PM (IST)

    नई संस्था के गठन का फैसला ठीक है, पर केंद्र सरकार यह भी सुनिश्चित करे कि वह सामुदायिक दबावों के आगे झुकती न दिखे।

    संपादकीय : आतंकवाद की वैश्विक चुनौती

    Thu, 23 Mar 2017 10:12 PM (IST)

    आईएस ने जिस कट्टरपंथी-हिंसक सोच को प्रचारित किया, उसके प्रभाव में हर जगह कुछ लोग आए हैं।

    आलेख : पहले देख तो लें योगी का राजकाज - प्रदीप सिंह

    Thu, 23 Mar 2017 10:14 PM (IST)

    योगी आदित्यनाथ को मौका दिए बिना खारिज करने की कोशिश न सिर्फ उनके साथ अन्याय, बल्कि जनादेश का अपमान भी है।

    संपादकीय : कश्‍मीर में बनी रहे सतत सतर्कता

    Wed, 22 Mar 2017 10:28 PM (IST)

    यह तथ्य भरोसा बंधाने वाला है कि सर्जिकल स्ट्राइक का कश्मीर में अच्छा असर देखने को मिल रहा है। लेकिन कुछ चिंताजनक सूचनाएं भी हैं।

    आलेख : मोदी के करिश्मे से पस्त है विपक्ष - हर्ष वी पंत

    Wed, 22 Mar 2017 10:30 PM (IST)

    अब इस 'मोदी-काल' में भारतीय राजनीति खुद को कैसे पुन: समायोजित करती है, यह देखना दिलचस्प होगा।

    आलेख : विकास के साथ बढ़े खुशहाली भी - डॉ जयंतीलाल भंडारी

    Tue, 21 Mar 2017 10:24 PM (IST)

    हमारे देश का तीव्र आर्थिक विकास तभी सार्थक कहलाएगा, जबकि खुशहाली के मोर्चे पर भी हम दुनिया में अग्रणी बनें।

    संपादकीय : पाकिस्तान से जल वार्ता

    Tue, 21 Mar 2017 10:21 PM (IST)

    भारत ने सिंधु जल विवाद पर फिर वार्ता के लिए राजी होकर सदाशयता दिखाई है। पर मूल समस्या पाकिस्तान का भारत विरोधी नजरिया है।