Naidunia
    Saturday, October 21, 2017
    Previous

    सोनू ने सिर मुड़ाकर किया मौलवी के फतवे का विरोध

    Published: Wed, 19 Apr 2017 02:08 PM (IST) | Updated: Wed, 19 Apr 2017 09:43 PM (IST)
    By: Editorial Team
    sonu nigam shaved head 2017419 162017 19 04 2017

    मुंबई। लाउडस्पीकर पर अजान का विरोध करने को लेकर गायक सोनू निगम का मामला नए मोड़ पर पहुंच गया है। बुधवार को सोनू ने इस मामले में अपने खिलाफ जारी फतवे का जवाब सिर मुड़ाकर दिया।

    सोनू निगम सोमवार को उस समय अचानक चर्चा में आ गए थे, जब उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट कर लाउडस्पीकर पर अजान की तेज आवाज का विरोध किया था। उन्होंने सुबह-सुबह तेज आवाज में होने वाली अजान को गुंडागर्दी करार दिया था।

    ट्वीट के बाद से ही सोनू लोगों के निशाने पर आ गए। कई बड़ी हस्तियों ने सोनू के ट्वीट को धार्मिक सद्भाव बिगाड़ने वाला करार दिया। इसी बीच कोलकाता के मौलवी सैयद शाह आतिफ अली अल कादरी ने सोनू के खिलाफ फतवा जारी कर दिया। कादरी ने सोनू का सिर मूड़ने और उन्हें पुराने जूतों की माला पहनाने वाले को 10 लाख रुपये देने का एलान किया।

    फतवा का जवाब देने के लिए सोनू ने अनोखा रास्ता चुना। उन्होंने बुधवार सुबह ट्वीट किया, "दोपहर दो बजे हेयर स्टाइलिस्ट आलिम हाकिम मेरा मुंडन करेंगे। मौलवी 10 लाख रुपये तैयार रखें।" इसके बाद सोनू ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और सिर मुड़वा लिया।

    सोनू ने कहा, "मैंने सिर्फ लाउडस्पीकर के प्रयोग के खिलाफ बोला। हर व्यक्ति की तरह मुझे भी अपने विचार रखने का अधिकार है। इसे गलत दिशा में नहीं ले जाना चाहिए। लाउडस्पीकर जरूरी नहीं हैं। ये धर्म का हिस्सा नहीं हैं।"

    सोनू ने कहा, "मेरा उद्देश्य किसी को तकलीफ देना नहीं था। अगर मैंने कुछ गलत किया तो मुझे माफ करें। मैं सामाजिक मुद्दे पर चर्चा चाहता था, धार्मिक मुद्दे पर नहीं।" सिर मुड़ाने के कदम पर सोनू ने कहा कि वो फतवे का जवाब प्यार से देना चाहते थे।

    इस बीच, हरियाणा के पानीपत, बिहार के मुजफ्फरपुर और महाराष्ट्र के औरंगाबाद में सोनू निगम के खिलाफ अलग-अलग लोगों ने शिकायत दर्ज कराई है।

    मैं ना राइट वाला, ना लेफ्ट वाला

    अपने विरोधियों को जवाब देते हुए सोनू ने कहा, "एक व्यक्ति जो मुहम्मद रफी को पिता मानता है। जिसके गुरु उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान हैं, उसे कोई मुस्लिम विरोधी कहे तो यह उसकी नहीं, ऐसा कहने वालों की परेशानी है। आजकल लोग दक्षिणपंथी होते हैं या वामपंथी। इसी कारण मेरे जैसे धर्मनिरपेक्ष लोग आज अल्पसंख्यक हो गए हैं। मैं धर्मनिरपेक्ष और तटस्थ हूं।"

    दबाव के बाद मौलवी ने बदला पैंतरा

    सोनू के सिर मुड़वा लेने के कदम के बाद दबाव में आए मौलवी कादरी ने पैंतरा बदल लिया है। कादरी ने कहा, "मैंने सोनू के खिलाफ फतवा नहीं दिया था, केवल उनके ट्वीट के खिलाफ प्रतिक्रिया जताई थी। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि भारत जैसे लोकतांत्रिक और धर्मनिरपेक्ष देश में रहने के लिए आपको सभी धर्मों के साथ रहना पड़ेगा।"

    सोनू को 10 लाख रुपये देने के सवाल पर कादरी ने कहा, "सोनू ने केवल सिर मुड़वाया है। मैंने पुराने जूतों की माला पहनने और लोगों के सामने घूमने की भी बात कही थी। इन दोनों शर्तों को पूरा करने के बाद ही मैं 10 लाख दूंगा।"

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें