Naidunia
    Sunday, September 24, 2017
    PreviousNext

    वंशवाद के मुद्दे पर ऋषि कपूर ने दिया राहुल गांधी को करारा जवाब

    Published: Wed, 13 Sep 2017 07:47 PM (IST) | Updated: Wed, 13 Sep 2017 08:29 PM (IST)
    By: Editorial Team
    rishi kapoor new r 13 09 2017

    नई दिल्ली। फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर ने राजनीति में वंशवाद के मुद्दे पर बॉलीवुड को घसीटने के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को करारा जवाब दिया है।

    बॉलीवुड में कपूर खानदान की तीसरी पीढ़ी के फिल्मी सितारे ऋषि कपूर ने कहा कि उनके परिवार की प्रत्येक पीढ़ी को जनता ने मेरिट पर चुना है। 106 साल पुराने भारतीय सिनेमा में कपूर खानदान का योगदान 90 सालों का है।

    उल्लेखनीय है कि अमेरिका दौरे के वक्त राहुल गांधी ने कैलीफोर्निया की बर्कले यूनिवर्सिटी में अपने भाषण में कहा था कि भारत वंशवाद से ही चलता है। फिर चाहे वह राजनीति हो, उद्योग जगत या फिल्म उद्योग। हालांकि इस दौरान उन्होंने कपूर खानदान का नाम नहीं लिया था।

    राहुल गांधी ने कहा था, 'भारत में ज्यादातर राजनीतिक दलों की यही समस्या है। फिर चाहे अखिलेश यादव हों, स्टालिन (करुणानिधि के बेटे), यहां तक कि अभिषेक बच्चन भी वंशवाद का ही नतीजा हैं। उद्योग जगत में अंबानी का भी यही हाल है। इंफोसिस में भी यह चल रहा है। भारत ऐसा ही चलता है इसलिए वंशवाद के नाम पर मुझ पर सवाल उठाना बंद करें।'

    राहुल गांधी के इसी बयान से तिलमिलाए ऋषि कपूर ने बुधवार को एक के बाद एक, कई ट्वीट किए। कपूर ने अपने पहले ट्वीट में कहा, 'राहुल गांधी भारतीय सिनेमा के 106 साल में कपूर खानदान का योगदान 90 सालों का है। और हरेक पीढ़ी को जनता ने उनके हुनर पर चुना है।'

    उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, 'ईश्वर की कृपा से परिवार के अन्य कलाकारों के अलावा केवल पुरुषों में ही हमारी चार पीढ़ियां-पृथ्वीराज कपूर, राज कपूर, रणधीर कपूर, रणबीर कपूर।'

    ऋषि कपूर ने कहा, 'वंशवाद को आप दूसरे नजरिये से देखते हैं। इसलिए लोगों पर जबरदस्ती अपनी सोच न थोपें। आपको लोगों की इज्जत और प्यार मेहनत करके हासिल करना होगा, जोर-जबरदस्ती और गुंडागर्दी से नहीं।'

    उल्लेखनीय है कि बेबाक ऋषि कपूर ने पिछले साल भी गांधी परिवार के खिलाफ बोलकर विवाद खड़ा कर दिया था। तब उन्होंने सुझाव दिया था कि गांधी परिवार के नाम वाली सड़कों और इमारतों के नाम बदले जाएं।

    तब उन्होंने ट्वीट किया था, 'अगर दिल्ली में सड़कों के नाम बदल सकते हैं तो कांग्रेसी संपत्ति के क्यों नहीं। इंदिरा गांधी एयरपोर्ट क्यों? महात्मा गांधी या भगत सिंह एयरपोर्ट क्यों नहीं?।'

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें