Naidunia
    Wednesday, September 20, 2017
    PreviousNext

    सूरत में अवैध तौर पर चल रहे मिनिरल वॉटर प्लांट पर प्रशासन की गिरी गाज़

    Published: Thu, 18 May 2017 12:35 AM (IST) | Updated: Fri, 19 May 2017 09:52 AM (IST)
    By: Editorial Team
    unnamed (1) 18 05 2017

    सूरत। सूरत महानगर पालिका के लिम्बायत ज़ोन के अधिकारियों ने भाटेना में आये मिनिरल वॉटर प्लांट का आकस्मिक निरीक्षण किया।

    प्लांट में गंदगी देखकर वे लिम्बायत ज़ोन के अधिकारियों-कर्मचारी प्लांट प्रोपराइटर पर भड़क गए और तत्काल साफ-सफाई कराने कहा। बिना लाइसेंस चल रहे इस प्लांट को तात्कालिक असर से बंद करवा दिया है । भाटेना में अवैध रूप से चल रही मिनरल वाटर की एक फैक्ट्री पर छापेमारी की।

    छापेमारी में उमरवाड़ा में स्थित खोडियारनगर में चल रहे अवैध शिव मार्केटिंग प्लांट में भारी अनियमितताएं मिलीं। गंदगी भरे हालातों में मिनरल वाटर पैक किया जा रहा था।

    शिव मार्केटिंग मिनिरल वॉटर प्लांट की फैक्टरी बिना लाइसैंस के मिनरल वाटर के ग्लास पैक करने का काम कर रही थी । अधिकारियों ने दस हजार का दंड कर लाइसेंस लेने की हिदायत प्लांट संचालक को दी है ।

    मिले एडिस मच्छर के ब्रिड

    अवैध रूप से चल रहे इस मिनिरल वॉटर प्लांट में मनपा के अधिकारियों को न केवल गंदगी का गुबार मिला साथ ही डेंग्यू फैलाने वाले एडिस मच्छर के ब्रिड भी मिले जो दृतीय स्तर पर थे।

    पालिका के अधिकारियों की माने तो यह प्लांट पिछले एक साल से अवैध तौर पर चल रहा था । रोजाना 500 जितने पानी के जार इस फेक्ट्री से सप्लाय किए जाते थे।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें