Naidunia
    Thursday, November 23, 2017
    PreviousNext

    अश्लील सीडी मामले में हार्दिक को मिला जिग्नेश और अल्पेश का साथ

    Published: Tue, 14 Nov 2017 07:31 AM (IST) | Updated: Wed, 15 Nov 2017 09:34 AM (IST)
    By: Editorial Team
    jignesh and alpesh 20171114 13546 14 11 2017

    अहमदाबाद। गुजरात चुनाव से ठीक पहले पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल का अश्लील वीडियो वायरल हो गया है। इस वीडियो के सामने आने के बाद राज्य की राजनीति गरमा गई है। वीडियो सामने आने के बाद जहां हार्दिक पटेल ने इसे बदनाम करने की साजिश बताया है वहीं अब उन्हें दलित नेता जिग्नेश मेवानी और ओबीसी नेता अल्पेश का समर्थन मिल गया है।

    इस मुद्दे पर ट्वीट करते हुए जिग्नेश पटेल ने हार्दिक को संबोधित करते हुए कहा कि आप चिंता ना करें मैं आपके साथ हूं। जिग्नेश ने कहा कि यौन संबंध बनाना मौलिक अधिकार है और कोई भी आपकी निजता का हनन नहीं कर सकता।

    मेवानी ने इस दौरान उन लोगों पर भी निशाना साधा जिन्होंने उनकी सीडी को लेकर मजाक उड़ाया। मेवानी ने लिखा कि साथियों, फेसबुक के इनबॉक्स में मैसेज मत भेजो कि तुम्हारी सीडी कब आएगी, जब आएगी तब देख लेना।

    Dear Hardik Patel, don't worry. I m with you. And right to sex is a fundamental right. No one has right to breach your privacy.

    — Jignesh Mevani (@jigneshmevani80) 13 November 2017

    वहीं अल्पेश ठाकोर ने लिखा है कि एनडी तिवारी को अपना पितामह बनाकर पूजने वाली भाजपा "फर्जी सीडी" से बचने वाली नहीं है। पाटीदार समाज पूरी तरह हार्दिक पटेल के साथ है।

    एनडी तिवारी को अपना पितामह बनाकर पूजने वाली भाजपा "फर्जी सीडी" से बचने वाली नहीं है। पाटीदार समाज पूरी तरह #HardikPatel के साथ है।

    — Alpesh Thakore (@AlpeshThakore) 13 November 2017

    बता दें कि हार्दिक की कथित सीडी सामने आने के बाद हार्दिक ने भी भाजपा को इसके लिए जिम्मेदार बताते हुए तीखा हमला किया है।

    हार्दिक ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि 'अब गंदी राजनीति की शुरुआत हो गई हैं। मुझे बदनाम कर लो कोई फ़र्क़ नहीं पड़ेगा,लेकिन गुजरात की महिलाओ का अपमान किया जा रहा हैं।'

    एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'जिसको जो करना हैं कर ले,पीछे हटने वाला नहीं हूँ।जम के लड़ने वाला हूँ।23 साल का हार्दिक अब बड़ा हो रहा हैं।मुझे बदनाम करने में करोड़ों का ख़र्च किया जाता हैं।'

    वीडियो से मची हलचल

    यह वीडियो अश्विन सांगलेश्वरीया ने पोस्ट करते हुए बताया है कि 'यह ऊटी के एक होटल का है। हार्दिक और महिला की बातचीत से ऐसा लगता है कि वे किसी नौकरी के सिलसिले में बात कर रहे हैं। इसके अलावा वीडियो से उनके बीच अंतरंगता का भी आभास होता है।'

    सोमवार को गांधीनगर में पाटीदार समिति की बैठक होनी थी। इसमें कांग्रेस की ओर से आरक्षण दिए जाने के फार्मूलों पर चर्चा होनी थी। लेकिन, इससे पहले ही यूट्यूब पर हार्दिक का कथित वीडियो वायरल होने से राज्य की राजनीति में एक मोड़ आ गया है।

    हार्दिक ने साजिश बताया

    वीडियो वायरल होने पर हार्दिक ने कहा है कि यह एक साजिश है। कांग्रेस नेता अहमद पटेल को आतंकी साबित करने का प्रयास करने वाली भाजपा उनके साथ ही यह वीडियो भी जारी करने वाली थी। लेकिन वह दांव उलटा पड़ गया।

    उन्होंने आशंका जताई कि उनके करीब 100 वीडियो बैंकाक में तैयार किए गए हैं। यह महिला के आत्मसम्मान के साथ खिलवाड़ है। राज्य में गंदी राजनीति की शुरुआत हो गई है। महिला की जासूसी, हत्या और सीडी जारी करने का काम कौन करता है सब जानते हैं। आंदोलन समिति की कोर कमिटी में चुनाव में समर्थन देने पर चर्चा हो रही थी। लेकिन ठीक उससे पहले वीडियो जारी किया गया।

    उन्होंने कहा कि पाटीदार आंदोलन मजबूती के साथ चल रहा है। इस तरह काम करने से भाजपा की 50 सीट ही आनेवाली है। एक सीट भी ज्यादा नहीं मिलने वाली।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें