Naidunia
    Saturday, August 19, 2017
    01 Jan 2017-31 Dec 2017

    मिथुन राशि का स्वामी बुध है। इस राशि को जातक विनम्र, उदार और हास्यप्रिय होता है। बुध के प्रभाव के कारण मिथुन राशि लोग बुद्धिमान होते हैं। यह द्विस्वभाव राशि है, इस राशि वाले व्यक्ति प्रत्येक वस्तु के दोनों पहलुओं पर बहुत अच्छी तरह सोच-विचार कर फिर निर्णय लेते हैं।

    वर्ष 2107 मिथुन राशि के जातकों के लिए सकारात्मक रहेगा। रिश्तों के मामलों में यह वर्ष सर्वोत्तम है। इस वर्ष करियर में पदोन्नति की पूरी संभावना है। नकारात्मक अनुभव से भी गुजरना होगा। वर्ष की शुरुआत में परिवार और रिश्तों की मजबूती से होगी। करीबी दोस्तों से नजदीकियां बढ़ेंगी। नक्षत्र की स्थिति प्रेम को समर्थन दे रही है।

    कड़ी मेहनत और लगातार प्रयास के बावजूद भी इस वर्ष चिंता में रहेंगे। जब आपका समय आएगा तो विवाद में फंस सकते हैं। कुछ अप्रत्याशित घटनाएं घट सकती हैं। परिस्थितियों से विपरीत कोई भी निर्णय लेने से बचें। करीबी मित्र की सलाह मिलने पर ऐसी स्थिति से उबरने में मदद मिलेगी। व्यापार के प्रति आपकी विशेष रुचि होगी। सांसारिक सुख की प्राप्ति होगी। इस तरह इस वर्ष शांत, उदार, हास्य प्रवृत्ति युक्त विद्वान व्यक्ति होंगे।

    सावधानी : सकारात्मक रहें। मित्र सोच-समझकर ही बनाएं। क्रोध पर नियंत्रण रखें। सहिष्णुता का भाव लेकर ही कार्य करें।

    उपाय: मिथुन राशि के जातकों का शुभ रत्न पन्ना है। बुधवार आपके लिए पूरी तरह से अनुकूल दिन है। बुध की शुभता अर्जित करने के लिए रत्नजड़ित बुध यंत्र गले में धारण करें। भगवान विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें। बुधवार के दिन व्रत रखें। भगवान गणेश का ध्यान करें।


    आज का दिन

    बुध पश्चिम में अस्त। शनि प्रदोष व्रत।

    पूर्व दिशा मध्यम है। पश्चिम दिशा शुभ। यदि अन्य दिशा यात्रा करना हो तो पूज्य महिला का आशीर्वाद लें। काफी रंग का मिष्ठान या काली तिल खाकर जायें।

    व्रत-त्योहार

    आखिर सोमवार को ही क्‍यों माना जाता है शिव का दिन

    सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने की परंपरा काफी पुराने समय से चली आ रही है। और पढ़ें »

    अंतरयात्रा

    आलोचना से पहले दूसरों को समझें, नहीं होंगे कभी परेशान

    बहुत जल्दी दूसरों की आलोचना या उन पर नाराजी जाहिर करना ठीक नहीं है। और पढ़ें »