Naidunia
    Saturday, August 19, 2017
    01 Aug 2017-31 Aug 2017

    इस माह आपकी आय में कमी आएगी तथा खर्च में वृद्धि होगी। इस माह में आपकी बोली (वाणी) में कड़वाहट और अप्रियता रहने से किसी भी व्यक्ति के साथ संबंधों में दरार आ सकती है।स्त्री-पुरूषों को दांपत्य जीवन में अहं और गुस्से की मात्रा अधिक रहेगी। संतान के विवाद से कहासुनी हो सकती है। व्यापार धंधा खूब बढ़िया चलेगा। कामकाज के लगभग सभी टार्गेट पूरे होने से कार्यक्षेत्र में आपकी प्रतिष्ठा अधिक होगी। विवाह के इच्छुक जातकों के लिए आशाभरा समय है।

    इस माह आप अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग और सावधान रहें |मसालेदार खाद्य पदार्थ कम खाएं। अधिक मेहनत करने के बावजूद भी आपको इच्छित फल नहीं मिलेंगे एवं मन में निराशा रहेगी। माता-पिता के साथ किसी मामले को लेकर वैचारिक मतभेद हो सकता है। सहोदरों के साथ संबंध सामान्य रहेंगे। जमीन, मकान का सुख मिलेगा लेकिन आशा से कम होगा।

    इस महीने लंबी यात्राओं तथा विदेश जाने के लिए उत्सुक व्यक्तियों को इस मामले में अनुकूलता बढ़ती देखने को मिलेगी। पिछले दिनों हुआ बुध का वक्री भ्रमण आठवें स्थान में व्यापारियों को व्यापार-धंधे में कमी ला सकता है। हालांकि, धार्मिक विषयों में आपकी रुचि बढ़ेगी जिससे आध्यात्मिक ज्ञान, कर्मकांड, गूढ विद्या आदि में आप ज्ञान के क्षितिजों का विस्तार कर सकेंगे।

    इस महीने में आपको शरीर में चर्मरोग की समस्या होती महसूस होगी। जिनको बवासीर, पैर के तलवे में जलन आदि की समस्या है उन्हें अधिक सावधानी बरतनी पड़ेगी। सार्वजनिक जीवन से संबंधित तथा सामाजिक अथवा सरकारी कार्य अटक सकते हैं। व्यापारियों को व्यापार धंधे में कमी आती हुई देखने को मिलेगी। महीने के अंत में इस अवधि के दौरान थोड़ी-सी भी अनदेखी के कारण दुर्घटना होने की आशंका है।

    आज का दिन

    बुध पश्चिम में अस्त। शनि प्रदोष व्रत।

    पूर्व दिशा मध्यम है। पश्चिम दिशा शुभ। यदि अन्य दिशा यात्रा करना हो तो पूज्य महिला का आशीर्वाद लें। काफी रंग का मिष्ठान या काली तिल खाकर जायें।

    व्रत-त्योहार

    आखिर सोमवार को ही क्‍यों माना जाता है शिव का दिन

    सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने की परंपरा काफी पुराने समय से चली आ रही है। और पढ़ें »

    अंतरयात्रा

    आलोचना से पहले दूसरों को समझें, नहीं होंगे कभी परेशान

    बहुत जल्दी दूसरों की आलोचना या उन पर नाराजी जाहिर करना ठीक नहीं है। और पढ़ें »