Naidunia
    Monday, July 24, 2017
    01 Jul 2017-31 Jul 2017

    नाम का पहला शब्द यदि- वृषभ- उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो।

    इस जुलाई माह में वृषभ राशि वालों की स्थिति बेहतर रहने की संभावना बनी हुई है | अपने निर्णयों से कुछ विषम परिस्थितियों से निकलने में सफल होंगे | आय की तुलना में व्यय अधिक रहेगा | पारिवारिक जीवन में संतुलन और सहजता बनाये रखें |इस माह तीर्थ स्थलों के भ्रमण का कार्यक्रम बन सकता है। नवीन कार्य योजनाओं पर कार्य करेंगे। स्त्री की सलाह लाभप्रद होगी। राजकीय कार्यों में अवरोध आयेंगे। कार्य स्थान पर सहकर्मियों का वांछित सहयोग मिलेगा। कोर्ट कचहरी के कार्यों में विजय मिलेगी। कुछ मतभेदो के कारण कार्य योजना में व्यवधान आयेगा। नजदीक-दूर की यात्राओं का आधिक्य रहेगा। पारिवारिक मामलों में उलझने के कारण व्यावसायिक कार्य प्रभावित होंगे। शत्रु पक्ष के कारण चिंता बनी रहेगी।धन पद प्रतिष्ठा मे वृद्वि होगी। शाही खर्च पर नियंत्रण रखे। आलस्य के कारण आप लाभ के अवसर खो सकते है।इस माह में राज्य पक्ष से लाभ मिलेगा। रिश्तेदारों से पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा। अचानक कहीं से फायदा मिल सकता है। व्यापार में उन्नति होगी। कृषि कार्य में कम लाभ मिलेगा। दोस्तों के बीच समय गुजरेगा।

    कुल मिलाकर व्यावसायिक दृष्टि से यह माह अच्छा रहेगा। नजदीकी लोगों से ली गयी सलाह कारगर सिद्ध होगी। नवीन लोगों से जुड़ाव होगा। किसी आंतरिक कार्य में बड़ी निराशा होगी। संतान संबंधी सुखद समाचार मिलेगा। खानपान की अनियमितता के कारण स्वास्थ्य प्रभावित होगा। इस वर्ष जुलार्इ माह की 4, 14, 15, 22 एवम 23 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए।

    इस माह का विशेष उपाय:- मोती चूर के लड्डू काले कुत्ते को खिलाएं। लाभदायक रहेगा।

    आज का दिन

    हरियाली अमावस्या। शक श्रावण प्रारंभ। सवार्थ सिद्धि योग 9:54 से दिनांक 24 को 7: 43 तक।
    पश्चिम दिशा मध्यम। पूर्व दिशा शुभ। अन्य दिशा यात्रा करना हो तो सूर्य के दर्शन कर या वृद्ध पुरुष से आज्ञा लेकर जामुनी फल या मिष्ठान अथवा गुड खाकर जाएं। 

    व्रत-त्योहार

    आखिर सोमवार को ही क्‍यों माना जाता है शिव का दिन

    सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने की परंपरा काफी पुराने समय से चली आ रही है। और पढ़ें »

    अंतरयात्रा

    आलोचना से पहले दूसरों को समझें, नहीं होंगे कभी परेशान

    बहुत जल्दी दूसरों की आलोचना या उन पर नाराजी जाहिर करना ठीक नहीं है। और पढ़ें »