Naidunia
    Tuesday, November 21, 2017

    दो थानों के बीच 20 दिन भटकती रही गैंगरेप पीड़िता

    Mon, 20 Nov 2017 10:18 PM (IST)

    गैंगरेप पीड़िता को रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए 15 दिन तक दो थानों के बीच भटकना पड़ा।

    युवाओं ने खुद बना ली नेकी की दीवार जरूरतमंदों को बांट रहे कपड़े

    Tue, 21 Nov 2017 03:46 AM (IST)

    वे लोग जिनके पास तन ढंकने के लिए कपड़े नहीं हैं सर्दी से बचने के लिए गर्म कंबल नहीं हैं उनकी मदद के लिए कराहल के युवा अपना पसीना बहा रहे हैं।

    इस सड़क पर जान हथेली पर लेकर चलते हैं लोग, प्रशासन नहीं ले रहा सुध

    Tue, 21 Nov 2017 11:09 AM (IST)

    72 किमी लम्बी सड़क शहर के बीच से बनने वाले हिस्से की उलझनें खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही हैं।

    बैंक की डस्‍टबिन से उठाई स्लिप से मिल जाती थी डिटेल, फिर बनाते थे क्‍लोन चेक

    Tue, 21 Nov 2017 03:48 AM (IST)

    यूको बैंक में एक खाते से चेक क्लोनिंग के जरिए 9.57 लाख रुपए ठगने के मामले का खुलासा सोमवार को पुलिस ने किया है।

    पति मारपीट कर बेटी की चीखने की आवाज फोन पर सुनाता था परिजनों को

    Tue, 21 Nov 2017 04:01 AM (IST)

    शहर से सटे कोसमी में रविवार देर शाम को एक नवविवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

    वर्ल्ड बैंक यूथ समिट के लिए प्रपोजल का सिलेक्शन

    Tue, 21 Nov 2017 01:30 AM (IST)

    ईश्वर अग्रवाल ने 'अनंत उज्जल' नामक एक प्रस्ताव वर्ल्ड बैंक यूथ समिति कॉम्पटीशन-2017 के लिए भेजा था।

    एपल का मोबाइल दिखाकर दो हजार में बेचा, लेदर कवर में निकला कांच का टुकड़ा

    Mon, 20 Nov 2017 08:43 PM (IST)

    पिता की तबीयत खराब होने की बात कहकर एक दुकानदार को एपल कंपनी का मोबाइल दो हजार रुपए में बेचने की बात कही।

    दुधमुंहे बेटे को फेंका तो मां ने खोया आपा, अपने पिता की कर दी हत्या

    Mon, 20 Nov 2017 09:58 PM (IST)

    बिरसा थाना के मछुरदा में एक बेटी ने बेटे की जान बचाने के लिए अपने शराबी पिता को ही मौत के घाट उतार दिया।

    ये कैसा बाल अधिकार दिवस : भूखे लौटे बच्चे, अफसरों ने होटल में उड़ाई दावत

    Tue, 21 Nov 2017 10:11 AM (IST)

    रोज दिनभर पन्नी बीनने के बाद शाम को रूखी-सूखी रोटी ही नसीब होती है।

    पुलिस के इंतजार में घंटों रखा रहा शव, चीटियां लगीं

    Tue, 21 Nov 2017 07:16 AM (IST)

    नेताजी सुभाषचन्द्र बोस मेडिकल अस्पताल में बीमारी का उचित इलाज कराना आसान नहीं है।