Naidunia
    Friday, December 15, 2017
    PreviousNext

    सहकारी बैंककर्मियों ने कहा- सातवां वेतनमान तो लेकर रहेंगे

    Published: Sat, 14 Oct 2017 04:07 AM (IST) | Updated: Sat, 14 Oct 2017 04:07 AM (IST)
    By: Editorial Team

    - भोपाल सहकारी सेंट्रल बैंक के सामने किया प्रदेश स्तरीय विरोध प्रदर्शन

    भोपाल। सातवां वेतनमान लेकर रहेंगे। यह हमारा हक है, क्योंकि हम भी राज्य के दूसरे कर्मचारियों की तरह ही काम करते हैं।

    शुक्रवार को यह बात सहकारी बैंक के कर्मचारियों ने कही। कर्मचारी सातवें वेतनमान नहीं देने समेत लंबित मांगों का निराकरण नहीं होने से नाराज हैं। विरोध में भोपाल सहकारी सेंट्रल बैंक के सामने प्रदेश स्तरीय प्रदर्शन के लिए जुटे थे। मप्र सहकारी फेडरेशन संघ के उपाध्यक्ष विमल दुबे ने बताया कि प्रदेश के सहकारी बैंकों में सालों से अधिकारी, कर्मचारी कार्यरत हैं। सरकार इन्हीं कर्मचारियों के माध्यम से किसानों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाती है। कर्मचारी बारिश, धूप और गर्मी में मैदानी स्तर पर काम करते हैं। इसके बावजूद कर्मचारियों को सातवें वेतनमान से अलग रखा गया है। उन्होंने बताया कि बैंकों में कर्मचारियों के सैंकड़ों पद खाली है, जो कर्मचारी काम कर रहे हैं उन पर दबाव बढ़ा है। संविदा और आउटसोर्स से भी कर्मचारियों की भर्ती नहीं की जा रही है। विमल दुबे ने बताया बैंकों में करीब 22 हजार कर्मचारी काम कर रहे हैं। काम के हिसाब से यह संख्या बहुत कम है। धीरे-धीरे कर्मचारी सेवानिवृत्त हो रहे हैं, जिनकी जगह भर्ती नहीं की जा रही। विधानसभा चुनाव के समय कुछ कर्मचारियों की ड्यूटी ग्रामीण क्षेत्रों में लगाई थी, उन्हें अब तक वापस नहीं किया गया है। इससे काम करने में दिक्कत हो रही है। कई बार विभाग प्रमुखों को ज्ञापन सौंप चुके हैं, लेकिन निराकरण नहीं किया जा रहा है। इसके खिलाफ जिला स्तर पर बैंकों में प्रदर्शन किया गया।

    और जानें :  # benk benk
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें