Naidunia
    Saturday, December 16, 2017
    PreviousNext

    साहब, पापा का देहांत हो गया और मां ने छोड़ दिया है

    Published: Thu, 10 Aug 2017 03:59 AM (IST) | Updated: Thu, 10 Aug 2017 12:06 PM (IST)
    By: Editorial Team
    child tears 2017810 1260 10 08 2017

    मुलताई। बोरदही थाना क्षेत्र के ग्राम लिखड़ी का एक 8 वर्षीय बालक पिछले चार दिनों से किसी अपने की तलाश कर रहा है, लेकिन पिता की मौत के बाद बच्चे की मां ने उसे छोड़ दिया है और नानी ने भी घर में रखने से मना कर दिया है। जंबाड़ी के एक युवक को तीन-दिन पहले बच्चा ताप्ती के पास लावारिस हालत में मिला था, युवक ने बच्चे को थाना लाया, जहां से उसे बच्चे की अस्थाई सुपुर्दगी दी गई थी, बच्चा दो दिनों से युवक के पास था। बुधवार को बच्चा बैतूल की एक संस्था को पुलिस द्वारा सौंपा गया है।

    साहब कुछ महीनों पहले मेरे पिता का देहांत हो गया था, उसके बाद मेरी मां भी घर छोड़कर कहीं चली गई, अब घर में मैं अकेला हूं, मेरी नानी जो बांसखापा में रहती है, वह भी मुझे नहीं रखना चाहती, ऐसे में मैं ताप्ती तट के पास मंदिरों में दिन काट रहा था, जंबाड़ी के राहुल नरवरे भैय्या मिले तो मैं उन्हें आपबीती बताई, तो वह थाना ले आए, उक्त बाते लिखड़ी निवासी उस आठ साल के बच्चे ने बताई जिसे यह नहीं पता कि वह अब कहा रहेगा और किसी अपना कहेगा।

    जंबाड़ी के राहुल नरवरे ने बताया कि पिछले दो दिनों से बच्चा उन्हीं के पास है, लेकिन वह भी इसे कितने दिन अपने पास रख सकते है, इसलिए उन्होंने चाल्इड हेल्प केयर में इसकी शिकायत की थी। जिस पर बैतूल की चाईल्ड केयर संस्था प्रदीपन के अधिकारी बुधवार को मुलताई थाना पहुंचे और बच्चे की अस्थाई सुपुर्दगी मांगी। एसआई एआर खान ने बताया कि बच्चा संस्था को अस्थाई सुपुर्दगी पर सौंपा जा रहा है, जो बच्चे के परिजनों से चर्चा करेंगे और यदि उसके बाद भी कोई बच्चे को रखने को राजी नहीं हुआ तो बच्चे को किसी चाइल्ड होम में दाखिल करवाया जाएगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें