Naidunia
    Friday, May 26, 2017
    PreviousNext

    आखिरी दौर में चल रही ईएसपी की टेस्टिंग, 18 को चालू हो सकती है इकाई

    Published: Fri, 17 Feb 2017 07:56 AM (IST) | Updated: Fri, 17 Feb 2017 07:56 AM (IST)
    By: Editorial Team

    आखिरी दौर में चल रही ईएसपी की टेस्टिंग, 18 को चालू हो सकती है इकाई

    प्लांट की क्षमता 1330, उत्पादन हो रहा 410 मेगावाट

    फोटो----16 बीटीएल 15

    सारणी। सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारणी।

    सारणी। नवदुनिया न्यूज

    250 मेगावाट की 10 नंबर इकाई का ईएसपी टेस्ट आखिरी दौर में चल रहा है। टेस्टिंग के लिए 11 फरवरी से कंपनी प्रबंधन द्वारा यह इकाई बंद रखी गई है। सबकुछ ठीक रहा तो शुक्रवार को सतपुड़ा की 10 नंबर इकाई लाइटअप कर ली जाएगी। इस इकाई के फिलहाल बंद रहने से विद्युत उत्पादन लुढ़क गया है। सूत्र बताते हैं कि ईएसपी का निर्माण ही गलत हुआ है। यही वजह है कि जब से इकाई लोड पर आई है तब से यह समस्या बनी है। सूत्र तो यह भी बता रहे हैं कि इससे पहले भी इस इकाई को कई बार बंद रखकर मेंटनेंस किया गया। लेकिन अब तक कोई सार्थक परिणाम सामने नहीं आए। 11 फरवरी 2017 को पुनः इकाई बंद रखकर 7 दिनों तक टेस्टिंग का दौर चल रहा है। इस बार सफलता मिलने के पूरे चांस बने हैं।

    410 मेगावाट पर सिमटा उत्पादन -

    1330 मेगावाट क्षमता के सतपुड़ा ताप विद्युत गृह का उत्पादन 410 मेगावाट पर सिमट गया है। यहां की 250 की 10 नंबर इकाई ईएसपी टेस्टिंग के लिए बंद है। जबकि 210-210 मेगावाट की 7, 8 व 9 नंबर इकाई रिजर्व शट डाउन पर है। फिलहाल 200 की 6 नंबर व 250 मेगावाट की 11 नंबर इकाई चालू है। इसमें भी 6 नंबर इकाई बेकिंग डाउन पर चल रही है। इस इकाई को 160 मेगावाट के लोड पर चलाया जा रहा है। जबकि 11 नंबर यूनिट फुल लोड पर चल रही है।

    1 लाख 65 हजार टन कोल स्टॉक -

    सतपुड़ा ताप विद्युत गृह के पास इन दिनों कोल यार्डों में 1 लाख 65 हजार टन कोल स्टॉक है। जबकि चालू इकाइयों में रोजाना 6 हजार टन के आसपास कोल खपत हो रही है। इन दिनों जितनी खपत पॉवर प्लांट में कोयले की हो रही है। उससे ज्यादा डब्ल्यूसीएल की क्षेत्रीय खदानों से कोयला आपूर्ति हो रहा है। खपत कम आपूर्ति अधिक होने के कारण बीते कई दिनों से कंपनी द्वारा रेलवे के जरिए कोल आपूर्ति कम कर दी गई है।

    एमओडी में सुधरी सतपुड़ा की स्थिति -

    पॉवर मैनेजमेंट कंपनी द्वारा प्रतिमाह जारी की जाने वाली एमओडी में सतपुड़ा की विद्युत उत्पादन दर में 8 व 2 पैसे प्रति यूनिट का सुधार आया है। जानकारी के अनुसार यहां की 4 पुरानी इकाइयों में 8 पैसे प्रति यूनिट का सुधार आया है। जबकि 250-250 की इकाइयों में प्रति यूनिट 2 पैसे का सुधार आया है। नई इकाई की विद्युत उत्पादन दर बीते माह 2.22 पैसे थी जो घटकर 2.20 पैसे पर आ पहुंची है। वहीं पुरानी इकाइयों की प्रति यूनिट उत्पादन दर 2.96 से घटकर 2.88 पैसे पर आ पहुंची है। इधर सिंगाजी की उत्पादन दर प्रति यूनिट 2.74 पैसे होने की वजह से सतपुड़ा की पुरानी इकाइयां फिलहाल आरएसडी में बंद रहेगी।

    और जानें :  # betul news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी