Naidunia
    Friday, December 15, 2017
    PreviousNext

    मरम्मत नहीं हुई, नहर फूटने से दबोह की बस्ती-लहार के खेतों में भरा पानी

    Published: Fri, 08 Dec 2017 09:11 AM (IST) | Updated: Fri, 08 Dec 2017 09:11 AM (IST)
    By: Editorial Team

    भिंड-दबोह। नईदुनिया न्यूज

    रबी की फसल के लिए किसानों को पानी देने से पहले जल संसाधन विभाग ने नहरों की साफ-सफाई और मरम्मत काम ठीक से नहीं कराया। इसका नतीजा है कि दबोह में पुलिया पर नहर फूटी तो पानी वार्ड 15 की बस्ती में भर गया। इतना ही नहीं बुधवार देर शाम से नहर फूटने से बस्ती में पानी भरना शुरू हुआ, लेकिन जल संसाधन विभाग का कोई भी अधिकारी गुरुवार को दूसरे दिन भी मुआयना करने के लिए नहीं पहुंचा। लहार इलाके में भी नहर का पानी खेतों में भरा, जिससे पानी को नाले में डायवर्ट करना पड़ा। नहर फूटने की शिकायत के बाद अफसरों ने अब पानी बंद करा दिया है। इससे किसानों को रबी की फसल में पानी की परेशानी बढ़ सकती है।

    तेज रफ्तार से चला पानी, बस्ती की सड़कें जलमग्न

    दबोह कस्बे में किसानों की मांग को देखते हुए सिंचाई विभाग ने बुधवार शाम अमहा माइनर नहर में पानी छोड़ा। जल संसाधन विभाग ने नहर का निरीक्षण और साफ-सफाई के राजघाट परियोजना की बीएमसी नहर से पानी छोड़ दिया। पानी छोड़ते ही दबोह के पास बधेड़ी की पुलिया पर नहर फूट गई। नहर में पानी की रफ्तार अधिक होने से पानी बस्ती की सड़कों पर भरना शुरू हो गया। बुधवार-गुरुवार रातभर नहर का पानी रहवासी इलाके में भरता रहा, लेकिन किसी ने सुध नहीं ली।

    पुलिया में कचरा फंसने से फूटी नहर :

    मालूम हो, अमहा माइनर में पिछले 1 साल से पानी नहीं छोड़ा गया है। इस बार किसानों के की मांग पर नहर में पानी तो छोड़ा गया, लेकिन पानी छोड़ने से पहले नहर की सफाई नहीं की गई। बुधवार शाम, जब नहर में पानी आया तो कचरा पुलिया में फंस गया, जिससे नहर फूट गई और पानी बस्ती में भरने लगा। स्थानीय रहवासियों ने रात में ही जल संसाधन विभाग के अफसरों को फोन पर सूचना दी, लेकिल गुरुवार देर शाम तक भी कोई भी अधिकारी या कर्मचारी दबोह नहीं पहुंचा। इससे लोगों में आक्रोश है।

    किसानों ने पानी नहीं लिया इसलिए भराः

    लहार में भी नहर का पानी खेतों में भरा। इस पर लहार जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री अनुरागी का कहना है नहर को बंद करा दिया गया है। किसानों की मांग से ज्यादा पानी आया था। किसानों ने पानी नहीं लिया तो खेत में पानी भरा था अब पानी को नाले में डायवर्ट करा दिया है।

    मेहगांव में आई शिकायत, विभाग का इनकारः

    मेहगांव के गौना और हरदासपुरा गांव में भी नहर का पानी खेतों में भरने की सूचना आई थी। विभाग के इंजीनियर मौका मुआयना करने के लिए गुरुवार दोपहर को पहुंचे, लेकिन देर शाम जल संसाधन विभाग के एसडीओ एलपी शर्मा ने इनकार करते हुए कहा कि मेहगांव इलाके में नहर नहीं फूटी है। एसडीओ ने कहा नहर 3 दिन से बंद थी। इससे किसी जगह नहर में पहले से मौजूद पानी ही खेत में गया है, लेकिन नहर फूटने की शिकायत उनके पास नहीं आई है।

    वर्जनः

    दबोह में नहर फूटने की जानकारी तो हमारे पास नहीं आई है। किसानों ने पहले पानी की मांग की, लेकिन अब पानी नहीं लिया होगा। इससे समस्या आई है। गुरुवार रात से नहर में पानी बंद करवा रहे हैं। अब किसानों की डिमांड पर ही पानी देंगे।

    एनपी बाथम, कार्यपालन यंत्री, जल संसाधन विभाग भांडेर

    और जानें :  # bhind news
    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें