Naidunia
    Saturday, June 24, 2017
    PreviousNext

    हम क्या यहां समय खराब कर रहे हैं, सीएस ने दमोह कलेक्टर को फटकारा

    Published: Fri, 19 May 2017 08:06 PM (IST) | Updated: Sat, 20 May 2017 07:28 AM (IST)
    By: Editorial Team
    basant pratap singh 19 05 2017

    भोपाल। 'हम क्या यहां समय खराब कर रहे हैं। मैडम ने जो बताया वो समझाइए। यहां गंभीर मुद्दों पर बात की जाती है। वहां कानून व्यवस्था की स्थिति नहीं बिगड़ी है जो आप दूसरी बात पर ध्यान लगा रहे हैं"।

    यह बात मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने शुक्रवार को परख वीडियो कॉन्फ्रेंस में दमोह कलेक्टर श्रीनिवास शर्मा को फटकार लगाते हुए कही। दरअसल, परख के दौरान जब स्कूल शिक्षा सचिव दीप्ति गौड़ मुकर्जी स्कूलों में आधार पंजीयन की स्थिति को समझा रही थीं, तब दमोह कलेक्टर पास में बैठक अपर कलेक्टर से चर्चा कर रहे थे। जब उनसे बातचीत का संदर्भ पूछा गया तो उन्होंने बताया कि किसी सिंचाई परियोजना के बारे में बता रहा था।

    मंत्रालय में हुई वीडियो कॉन्फ्रेंस में पेयजल, नलजल योजना, राजस्व, पीडीएस, सिंचाई परियोजना सहित अन्य मामलों की समीक्षा की गई। राजस्व मामलों की समीक्षा के वक्त सिंगरौली, मंडला सहित कई जिलों में लंबित मामलों की संख्या अधिक होने पर अधिकारियों को मैदानी कार्यालयों का निरीक्षण करने की हिदायत दी गई।

    साथ ही कहा गया कि गड़बड़ी करने वाले कर्मचारियों के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कराए जाएं। पेयजल पर चर्चा के दौरान आगर मालवा के कलेक्टर डीवी सिंह ने राशि की कमी की बात उठाई तो मुख्य सचिव ने कहा कि राशि दी जा चुकी है, पहले उसे खर्च करो। यदि और जरूरत है तो उसकी मांग करो। पेयजल संकट की वजह से कहीं भी पलायन नहीं होना चाहिए।

    ग्रामोदय में मिले 4.30 लाख अपात्र हितग्राही

    प्रमुख सचिव खाद्य केसी गुप्ता ने बैठक में बताया कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली से अपात्रों को बाहर करने और पात्रों के नाम जोड़ने का काम चल रहा है। ग्रामोदय अभियान में 4.30 लाख अपात्रों की शिनाख्त हो चुकी है। 25 हजार से ज्यादा के नाम काटे जा चुके हैं। जो गेहूं खरीदा गया है, उसे बारिश से पहले सुरक्षित गोदामों में पहुंचाया जाए। प्री-मानसून के कारण अनाज भीगना नहीं चाहिए।

    विपक्षी पार्टियां सरकार पर आक्रमण करती हैं

    बैठक में मुख्य सचिव ने अवैध उत्खनन को लेकर सख्ती दिखाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा के कारण विपक्षी पार्टियां सरकार पर आक्रमण करती हैं। अवैध उत्खनन और परिवहन रोकें। मशीनें जब्त करें। अवैध खुदाई बंद होनी चाहिए।

    वो तुमसे फिजिकली वीक है, उसे पहले बोलने दो

    मुख्य सचिव जब अपनी बात रख रहे थे तब श्योपुर कलेक्टर अभिजीत अग्रवाल ने कुछ बोलना चाहा। इतने में झाबुआ कलेक्टर आशीष सक्सेना भी उठ गए तो हंसी-मजाक के लहजे में मुख्य सचिव ने कहा कि अभिजीत को बोलने दो, वो तुमसे फिजिकली वीक है।

    अपना नियंत्रण खो रहे हैं कलेक्टर

    मुख्य सचिव ने राजस्व मामलों की समीक्षा करते हुए कहा कि कलेक्टर राजस्व मामलों को लेकर बैठकें करें। निरीक्षण करें। ऐसा नहीं करके अधिकारी अपना नियंत्रण खो रहे हैं। उन्हें पता ही नहीं रहता है कि नीचे कितने नामांकन, सीमांकन या बंटवारे के प्रकरण लंबित हैं। पटवारियों को बैठाकर मामले निपटवाइए। इनके दस से पांच बजे तक बैठने से ही काम नहीं चलेगा।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      अटपटी-चटपटी