Naidunia
    Wednesday, August 23, 2017
    PreviousNext

    रातापानी, देवास के लिए इंटरनेशनल फंड जुटाएगी सरकार

    Published: Sat, 12 Aug 2017 08:02 PM (IST) | Updated: Sun, 13 Aug 2017 06:51 AM (IST)
    By: Editorial Team
    ratapani 12 08 2017

    भोपाल। राजधानी से सटे रातापानी अभयारण्य सहित प्रदेश के छह संरक्षित क्षेत्रों के लिए सरकार इंटरनेशनल फंड जुटाएगी। इसे लेकर पिछले दिनों सीएटीएस (कंजर्वेशन एश्योर्ड टाइगर स्टैंडर्ड) ने कार्यशाला की है।

    इसमें इन सभी संरक्षित क्षेत्रों के अधिकारियों को नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी (एनटीसीए) की गाइडलाइन के हिसाब से तैयारी करने को कहा गया है।

    यह संस्था (सीएटीएस) गाइडलाइन के मुताबिक काम होने पर बाघों के संरक्षण के लिए फंड देती है। वन विभाग को बाघों की सुरक्षा के लिए केंद्र और राज्य सरकार से फंड मिलता है।

    इसके अलावा टाइगर फाउंडेशन सोसायटी के माध्यम से फंड जुटाया जाता है, लेकिन ये फंड नेशनल पार्क और अभयारण्यों में ही खर्च किया जा सकता है।

    प्रदेश के शेष ऐसे संरक्षित क्षेत्र जहां बाघों का मूवमेंट है या भविष्य में संभावना है। इनके लिए विभाग के पास राशि का अभाव रहता है। इसलिए इस संस्था से सहयोग लिया जा रहा है। यह संस्था विश्व के 13 देशों में बाघ संरक्षण का काम करती है।

    इन क्षेत्रों के लिए जुटाएंगे फंड

    रातापानी, देवास, बालाघाट, छिंदवाड़ा, नौरादेही व एक अन्य अभयारण्य समेत अन्य क्षेत्र शामिल हैं। इनमें से नौरादेही में फिलहाल बाघ नहीं हैं, लेकिन विभाग का मानना है कि भविष्य में यहां बाघों का मूवमेंट होने की संभावना है।

    ऐसे होगी तैयारी

    सभी संरक्षित क्षेत्र संचालक एनटीसीए की गाइडलाइन के तहत अगले दो माह में क्षेत्र को विकसित करेंगे और रिपोर्ट वाइल्ड लाइफ मुख्यालय को भेजेंगे। इसके आधार पर संस्था से फंड की मांग की जाएगी।


    मैनेजमेंट आसान होगा

    संस्था ने एनटीसीए की गाइडलाइन के हिसाब से सभी जगह तैयारी करने को कहा है। हम वह कर रहे हैं। व्यवस्थाएं दुरस्त करने के बाद फंड के लिए प्रस्ताव भेजेंगे। इससे वाइल्ड लाइफ मैनेजमेंट में आसानी होगी।

    - आरपी सिंह, एपीसीसीएफ, वाइल्ड लाइफ

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें