Naidunia
    Tuesday, October 24, 2017
    PreviousNext

    आराम तलब जिंदगी और चटपटा खाकर कुत्ते हो रहे डायबिटिक

    Published: Sat, 13 May 2017 08:30 PM (IST) | Updated: Thu, 18 May 2017 09:23 AM (IST)
    By: Editorial Team
    dog 2017513 23195 13 05 2017

    भोपाल। आराम तलब जिंदगी, मसालेदार और चटपटा खाना और असंयमित दिनचर्या से हम अपनी सेहत तो बिगाड़ ही रहे हैं, अपने पालतू जानवरों को भी ऐसी बीमारी दे रहे हैं जो उन्हें नहीं होती थीं या फिर बहुत कम होती थीं। करीब 10 फीसदी कुत्ते भी डायबिटीज का शिकार हो रहे हैें।

    इस वजह से उन्हें हार्मोन से संबंधी बीमारियों के साथ हार्ट और किडनी की बीमारी भी हो रही है। राजधानी के राज्य पशु चिकित्सालय में इलाज के लिए आने वाले कुत्तों की जांच में यह आंकड़ा सामने आया है। 5-6 साल की उम्र में उन्हें यह बीमारी हो रही है।

    राज्य पशु चिकित्सालय के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. एचएल साहू कहते हैं कि सामान्य आबादी में 10 में से औसतन एक कुत्ते को डायबिटीज हो रहा है। पांच साल पहले तक कुत्तों में डायबिटीज के मामले न के बराबर थे। बीमारी पनपने की वजह यह कि कुत्ता मूलत: मांसाहारी जीव है, लेकिन इंसान ने उसे पालतू बनाकर अपनी पसंद की खुराक देना शुरू कर दिया।

    कुत्तों को ज्यादा तेल-मसाले वाली चीजें खिलाई जा रही हैं वह भी कई बार। उनका घूमना-फिरना और दौड़ना भी बंद हो गया। इस वजह से लगभग 50 फीसदी कुत्तों को मोटापा (ओबेसिटी) है, जो एक बीमारी है। मोटापे की वजह से उनका लिवर फैटी हो रहा है। अस्पताल में कुत्तों की सोनोग्राफी में यह सामने आया है। जर्मन शेफर्ड और लेब्राडोर कुत्तों में मोटोपे की समस्या ज्यादा हो रही है।

    तेजी से बढ़ रहा थायराइड

    महू स्थित वेटनररी कॉलेज में सीनियर सांइटिस्ट डॉ. परेश जैन के मुताबिक 10 से 12 फीसदी पालतू कुत्ते डायबिटीज के शिकार हो रहे हैं। खान-पान में बदलाव के चलते उनमें थायराइड की समस्या भी हो रही है।

    हालांकि इसके मामले 100 में 2-3 ही होते हैंं। जैन के मुताबिक कुत्ता काफी भावुक जानवर होता है। साथ ही उनका खान-पान तेल मसाले वाला होने से उन्हें अल्सर की दिक्कत भी बढ़ रही है। हाई ब्लड प्रेशर के भी इक्का-दुक्का केस मिल रहे हैं।

    10 में तीन कुत्तों की फेल हो रही किडनी

    इंदौर के डॉ. नरेश जैन के मुताबिक कुत्तों में किडनी फेल होने की बीमारी तेजी से बढ़ी है। चौकाने वाली बात यह है कि 6-7 साल की उम्र के बाद 10 में से 3 पालतू कुत्तों की किडनी फेल हो रही है। इसके पीछे बड़ी वजह पानी है। इंदौर में ज्यादातर घरों में बोरिंग का पानी आता है। कुत्तों को बिना फिल्टर वाला पानी सीधा टंकी से निकाल कर दे दिया जाता है। हेवी धातुओं के चलते उनकी किडनी फेल हो रही है। किडनी फेल होने की दूसरी वजह मोटापा व डायबिटीज है।

    गाय-भैंस के दूध में कम हो रहे मिनरल्स

    वेटनररी कॉलेज महू के डॉ. परेश जैन का कहना है कि गाय-भैंस का मूल आहार अब संतुलित नहीं रहा है। उन्हें हरी चीजें खाने को नहीं मिलतीं। इस वजह से उनके दूध में भी पौष्टिक तत्वों की कमी आ रही है।

    हालांकि, खान-पान का असर उनके दूध में कुछ महीने बाद आता है। राज्य पशु चिकित्सालय के डॉ. एसआर नागर ने बताया कि गाय-भैंस भी एक जगह बंधी रहती हैं। ज्यादा दूध के फेर में उनके खान-पान में खली और फैट वाली चीजें बढ़ने से जोड़ खराब होने की बीमारी बढ़ी है।

    ऐसे पहचाने डायबिटीज को

    - कुत्ता ज्यादा पानी पी रहा हो।

    -बार-बार पेशाब करना।

    -पेशाब में चींटी लग रही हों।

    -स्किन की बीमारी होने पर इलाज के बाद भी ठीक नहीं हो रही हो।

    प्रतिक्रिया दें
    English Hindi Characters remaining


    या निम्न जानकारी पूर्ण करें
    नाम*
    ईमेल*
    Word Verification:*
    Please answer this simple math question.
    +=

      जरूर पढ़ें